Covid-19 Update

1,58,472
मामले (हिमाचल)
1,20,661
मरीज ठीक हुए
2282
मौत
24,684,077
मामले (भारत)
163,215,601
मामले (दुनिया)
×

Pfizer की Corona Vaccine लगवाने के तीन हफ्ते बाद पॉजिटिव हुई ब्रिटेन की नर्स

कोरोना होने की वजह से उनका दिल टूटा दिल, पार्टनर और बच्चा भी पॉजिटिव

Pfizer की Corona Vaccine लगवाने के तीन हफ्ते बाद पॉजिटिव हुई ब्रिटेन की नर्स

- Advertisement -

दुनिया भर के कई देशों में कोरोना की वैक्सीन लगना तो शुरू हो गई है साथ ही इसके पॉजिटिव और नेगेटिव रिजल्ट भी सामने आने शुरू हो गए हैं। फाइजर की कोरोना वैक्सीन लगवाने के तीन हफ्ते बाद ब्रिटेन की एक नर्स कोरोना पॉजिटिव हो गई। फाइजर कंपनी (Pfizer) दावा करती है कि उसकी वैक्सीन कोरोना (Corona Vaccine) से बचाने में 95 फीसदी सफल है। हालांकि, एक्सपर्ट्स का कहना है कि वैक्सीन लगवाने के बाद इम्यूनिटी तैयार होने में समय लग सकता है और इसकी वजह से लोगों को टीकाकरण के बाद भी मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना चाहिए।


यह भी पढ़ें:  #Johnson&Johnson ने रोका कोरोना वैक्सीन का Trial, वजह जानने के लिए करें क्लिक

ब्रिटेन (Britain) के वेल्स की रहने वाली नर्स का कहना है कि वह फाइजर की दूसरी खुराक लगवाने का इंतजार कर रही थी तभी उनमें कोरोना के लक्षण आ गए। नर्स ने कहा कि वैक्सीन लगाने के बाद कोरोना होने की वजह से उनका दिल टूट गया और वह गुस्से में हैं। ब्रिटेन की नर्स ने कहा- ‘वैक्सीन लगवाने के बाद दिमाग को सुकून मिला और अहसास हुआ कि मैं सुरक्षित हो गई हूं, लेकिन यह सुरक्षा का भाव फर्जी निकला।’ नर्स ने यह भी दावा किया कि उन्हें बताया गया था कि वैक्सीन लगाने के 10 दिन बाद उन्हें कोरोना से सुरक्षा मिल जाएगी। नर्स ने बताया कि वैक्सीन लगवाने के तीन हफ्ते बाद वह खुद पॉजिटिव हो गई और उनका पार्टनर और बच्चा भी पॉजिटिव निकला। बता दें इससे पहले अमेरिका के सैन डियागो में रहने वाले मैथ्यू डब्ल्यू फाइजर भी वैक्सीन लगवाने के छह दिन बाद कोरोना पॉजिटिव हो गए थे।


ब्रिटेन के प्रोफेसर टिम स्पेक्टर ने कहा है कि फाइजर की वैक्सीन लगवाने के बाद ब्रिटेन की नेशनल हेल्थ सर्विस के कई जूनियर स्टाफ भी कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) हो गए हैं। उन्होंने कहा कि खुराक लेने के बाद सुरक्षा मिलने में कई हफ्ते का वक्त लग सकता है। फाइजर कंपनी ने कहा है कि उसने वैक्सीन से सुरक्षा मिलने की जांच सिर्फ उस स्थिति में की है जब व्यक्ति को 21 दिन में दूसरी खुराक मिल गई थी। वहीं, ब्रिटेन ने दूसरी खुराक दिए जाने के समय को तीन हफ्ते से बढ़ाकर 12 हफ्ते तक कर दिया है। इसकी वजह से फाइजर ने चेतावनी भी जारी की थी कि देरी से खुराक दिए जाने पर वैक्सीन से सुरक्षा मिलेगी, इस बात को साबित करने के लिए कोई डेटा मौजूद नहीं है। अब दवा कंपनियां अपनी तरफ से जितनी भी कोशिश कर लें लेकिन कोरोना कहीं ना कहीं से लोगों को परेशान कर ही रहा है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है