Covid-19 Update

2,05,061
मामले (हिमाचल)
2,00,704
मरीज ठीक हुए
3,498
मौत
31,396,300
मामले (भारत)
194,663,924
मामले (दुनिया)
×

घर पहुंच कर बोले Tej Bahadur – इंसाफ के लिए खटखटाऊंगा Court का दरवाजा

घर पहुंच कर बोले Tej Bahadur – इंसाफ के लिए खटखटाऊंगा Court का दरवाजा

- Advertisement -

bsf jawan tej bahadur yadav : मोहिंदर भारती/रेवाड़ी। BSF में खराब खाने की शिकायत का वीडियो सोशल मिडिया पर वायरल होने के बाद सुर्खियों में आने वाले जवान तेज बहादुर यादव आज अपने घर रेवाड़ी पहुंचे, जहां परिवार ने उनका फूलमालाओं से स्वागत किया। सेना से बर्खास्त किए जाने के बाद गुरुवार को रेवाड़ी पहुंचे तेज बहादुर ने कहा कि, यह लड़ाई मेरी नहीं, पूरे देश की लड़ाई है, जिसे वो आखिरी दम तक लड़ेंगे।

तेज बहादुर ने कहा कि खराब खाने की शिकायत करने के बाद मुझे मानसिक रूप से प्रताड़ित किया गया। उन्होंने कहा कि, 8 फरवरी के बाद अधिकारियो का व्यव्हार कुछ ठीक रहा। जबकि उससे पहले उनका व्यव्हार काफी गन्दा था। मेरे फोन तक ले लिए और मैं चोरी छिपे घर वालों से बातें करता था। तेज बहादुर ने कहा कि मैं इंसाफ के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाऊंगा, लेकिन चुप नहीं बैठूंगा।


bsf jawan tej bahadur yadav : बेटा फौज में जाना चाहेगा तो जरूर भेजूंगा

इसके साथ ही तेज बहादुर ने कहा कि अगर उनका बेटा फौज में जाना चाहेगा तो जरूर भेजूंगा। वह सब मैंने इसलिए किया, ताकि आने वाली पीढ़ी के उन नौजवानों के साथ ऐसा न हो जो फौज में जाकर देश की सेवा करना चाहेंगे। तेज बहादुर की पत्नी शर्मीला ने कहा कि लम्बे समय तक इन्तजार के बाद पति घर लौटे हैं। वह इस लड़ाई को यहीं खत्म नहीं करेंगे, बल्कि लड़ते रहेंगे। वहीं अटेली के पूर्व विधायक नरेश यादव का कहना है कि सेना के अधिकारियो ने एक सोची समझी चाल के तहत तेज बहादुर को निष्काषित किया, जोकि बड़े दुख की बात है। हमारी सरकार ने भी कहा था कि तेज बहादुर को न्याय मिलेगा, लेकिन वो भी अपने वादे पर कायम नहीं रही।

उन्होंने कहा कि, यह लड़ाई केवल तेज बहादुर की नहीं बल्कि देश के सभी जवानों की है। इसके लिए हम तेज बहादुर के साथ आखरी दम तक लड़ेंगे।

यह भी पढ़ें : BSF जवान तेजबहादुर यादव बर्खास्त

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है