Covid-19 Update

1,98,551
मामले (हिमाचल)
1,90,377
मरीज ठीक हुए
3,375
मौत
29,505,835
मामले (भारत)
176,585,538
मामले (दुनिया)
×

कश्मीर से 370 खत्म! ‘केंद्रनीति’ से विरोधी भी बंटे, BSP और केजरीवाल फैसले के साथ 

कश्मीर से 370 खत्म! ‘केंद्रनीति’ से विरोधी भी बंटे, BSP और केजरीवाल फैसले के साथ 

- Advertisement -

नई दिल्ली। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने सोमवार को राज्यसभा में जम्मू-कश्मीर (Jammu & Kashmir) से धारा 370 (Article 370) हटाने का संकल्प पेश किया है। इसके साथ ही शाह ने जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन का संकल्प भी पेश किया है। जिसके बाद से सदन में काफी हंगामा चल रहा है। बता दें कि जम्मू-कश्मीर अब एक केंद्र शासित प्रदेश बन गया है। इसके साथ ही घाटी को धारा 370 के जरिए जो विशेषाधिकार मिले हुए थे, वह भी खत्म हो गए हैं। वहीं केंद्र सरकार ने लद्दाख को जम्मू-कश्मीर से अलग कर दिया है, यानी लद्दाख अब एक अलग राज्य होगा। हालांकि लद्दाख को बिना विधानसभा केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दिया गया है।

अब सरकार के इस फैसले के बाद उनके विरोधी भी दो फाड़ में बंटे हुए नजर आ रहे हैं। दरअसल केंद्र सरकार के फैसलों का अक्सर विरोध करने वाले उनके कुछ विरोधी उनके इस फैसले पर साथ खड़े नजर आ रहे हैं। बता दें कि बहुजन समाज पार्टी (BSP) ने धारा 370 पर मोदी सरकार के संकल्प का राज्यसभा में समर्थन किया। वहीं दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने भी धारा 370 पर मोदी सरकार के फैसले का स्वागत किया है। वहीं राज्यसभा में कांग्रेस-पीडीपी-टीएमसी ने इसका विरोध किया है लेकिन बीजद, YSR कांग्रेस और अन्य कुछ विरोधी दलों द्वारा सरकार के इस फैसले का समर्थन किया गया है।


यह भी पढ़ें :J&K: हिंसा से निपटने के लिए सभी राज्य अलर्ट पर, सेना और एयरफोर्स हाईअलर्ट पर

वहीं इस मसले पर ट्वीट करते हुए महबूबा मुफ्ती ने कहा, ‘आज का दिन भारतीय लोकतंत्र का स्याह दिन है। अनुच्छेद 370 निरस्त करने का भारत सरकार का एकतरफा फैसला गैर कानूनी, असंवैधानिक है। जम्मू-कश्मीर में भारत संचालन बल बन जाएगा। अनुच्छेद 370 पर उठाया गया कदम उपमहाद्वीप के लिए विनाशकारी परिणाम लेकर आएगा, वे जम्मू-कश्मीर के लोगों को आतंकित कर इस क्षेत्र पर अधिकार चाहते हैं। भारत कश्मीर के साथ किये गए वादों को पूरा करने में नाकाम रहा है।’

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है