×

बजट सत्र: राष्ट्रपति ने की सर्जिकल स्ट्राइक के लिए सेना की तारीफ

बजट सत्र: राष्ट्रपति ने की सर्जिकल स्ट्राइक के लिए सेना की तारीफ

- Advertisement -

अभिभाषण के साथ संसद का बजट सत्र शुरु


नई दिल्ली। संसद के बजट सत्र की शुरुआत मंगलवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण के साथ हुई। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने अपने भाषण में सरकारी योजनाओं की कामयाबियां गिनवाईं। राष्ट्रपति ने कहा कि  सरकार ने कालेधन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है। दूसरी तरफ उन्होंने कामयाब सर्जिकल स्ट्राइक पर सेना की तारीफ की। राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ करवाने पर चर्चा के लिए तैयार है।
राष्ट्रपति के अभिभाषण की प्रमुख बातें: 
  • 6 लाख दिव्यांगों को नौकरी देने का लक्ष्य
  • दिव्यांगों के लिए आरक्षण बढ़ाकर 4 फीसदी
  • खेलों में दिव्यागों की उपलब्धियां सराहनीय
  • 1 करोड़ को PMKVY के तहत रोजगार का लक्ष्य
  • 2022 तक सबको घर देने का लक्ष्य
  • इंद्रधनुष योजना के तहत 55 लाख बच्चों को टीके का लक्ष्य
  • UNI नंबर से कर्मचारियों को फायदा
  • 11 हजार गांवों में बिजली पहुंचाई
  • सेना में महिलाओं को बराबरी का मौका
  • सरकारी योजना के तहत दाल की कीमत घटी
  • मातृत्व अवकाश 12 हफ्ते से 26 हफ्ते किया गया
  • प्रधानमंत्री मातृत्व अभियान से गर्भवती महिलाओं को मदद
  • फसल बीमा योजना से किसानों को फायदा
  • युवाओं के स्किल डेवेलपमेंट के लिए कई कदम उठाए
  • महिला खिलाड़ियों की कामयाबी ने दिखाया नारीशक्ति का दम
  • बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान के नतीजे उत्साहवर्धक
  • 5 करोड़ घरों को दिया गैस कनेक्शन
  • खरीफ पैदावार में 6 फीसदी बढ़ोतरी
  • उज्ज्वला स्वच्छ योजना से साफ ईंधन का इंतजाम
  • 11 हजार गांवों को बिजली पहुंचाई
  • हर गरीब को बैंकिंग प्रणाली से जोड़ा गया
  • कालेधन के खिलाफ जनता का सहयोग सराहनीय
  • जनशक्ति को सरकार का सलाम
  • च्छे मानसून, सरकारी योजनाओं से किसानों को फायदा
  • 13 करोड़ गरीबों को मिली सामाजिक सुरक्षा
  • आम बजट और रेल बजट पहली बार एक साथ
  • सरकार का लक्ष्य ‘सबका साथ, सबका विकास’
  • सरकार के आह्वान पर 2.2 करोड़ लोगों ने LPG सब्सिडी छोड़ी
  • गरीब, दलित, शोषित, वंचित, किसान और युवाओं का हित सरकार की प्राथमिकता
  • स्वच्छ भारत मिशन बना जन अभियान
  • 26 करोड़ जनधन खाते खोले गए हैं
  • जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद से सैनिकों और नागरिकों की मौतें चिंता का विषय
  • सरहद पार आतंकवाद से जूझ रहा जम्मू-कश्मीर
  • आतंक को हराने के लिए दुनिया के साथ
  • सरकार ने OROP का वादा निभाया
  • डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए कदम
  • GST पर सहमति बनाने की कोशिशें जारी
  • एक साथ विधानसभा और लोकसभा चुनाव पर चर्चा के लिए सरकार तैयार
  • जल्द लागू होगा आधार पेमेंट सिस्टम
  • मोबाइल एप ”BHIM” अंबेडकर के नजरिये को सलाम
  • जनधन खातों में 36 हजार करोड़ सब्सिडी
  • आतंकी घुसपैठ रोकने के लिए सर्जिकल स्ट्राइक की गई
  • हमें सेना पर गर्व है
  • नोटबंदी से कालाधन रोकने में मदद
  • 47-75 GW स्वच्छ ऊर्जा पैदा करने का लक्ष्य
  • 2016-17 में मनरेगा का बजट सबसे ज्यादा
  • सागरमाला प्रोजेक्ट के तहत बंदरगाहों का होगा विकास
  • मत्स्य विभाग को खास तवज्जो मिलती रहेगी
  • 75 हजार गांवों को ऑप्टिकल फाइबर कनेक्शन
  • अरुणाचल, मेघालय में रेल लाइन का विस्तार होगा
  • गांवों में अब तक 73 हजार किलोमीटर सड़कें बनाईं
  • सभी गांवों को सड़कों से जोड़ने का लक्ष्य
  • उत्तर-पूर्व में रेलवे के विस्तार पर 10 हजार करोड़ खर्च
  • रेलवे के आधुनिकीकरण के लिए 1.2 लाख करोड़ मुहैया करवाये गए
  • उत्तर-पूर्व के जरिये पड़ोसी देशों के लिए रास्ते खोले
  • उत्तर-पूर्व के राज्यों को आर्थिक मदद दे रही सरकार
  • हल्दिया गैस पाइपलाइन योजना को हरी झंडी
राष्ट्रपति के मुताबिक किसानों, गरीबों, पिछड़ों और युवाओं का हित सरकार की पहली प्राथमिकता है। राष्ट्रपति ने कहा कि 2016 में पर्यटन क्षेत्र की विकास दर 10 फीसदी से ज्यादा रही। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार ने कई देशों के साथ रिश्ते सुधारे। वहीं राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान मंगलवार को एक सांसद की तबीयत खराब हो गई। प्रणब मुखर्जी अपनी स्पीच दे रहे थे उसी दौरान ई अहमद की हालत खराब हो गई। उन्हें तुरंत सदन से बाहर ले जाकर एंबुलेंस के जरिए हॉस्पिटल पहुंचाया गया। बता दें कि ई अहमद केरल से सांसद हैं। मनमोहन सरकार में वह विदेश राज्यमंत्री थे। अहमद इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग के नेशनल प्रेसिडेंट हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है