Covid-19 Update

39,406
मामले (हिमाचल)
30,470
मरीज ठीक हुए
632
मौत
9,393,039
मामले (भारत)
62,573,188
मामले (दुनिया)

बैंक ऑफ बड़ौदा में हुआ देना और विजया बैंक का विलय

बैंक ऑफ बड़ौदा में हुआ देना और विजया बैंक का विलय

- Advertisement -

शिमला। बैंक ऑफ बड़ौदा (BoB) में देना बैंक और विजया बैंक का विलय 1 अप्रैल से प्रभावी हो गया है। दोनों ही बैंकों के ग्राहकों के खाते अब BoB में ट्रांसफर हो जाएंगे। यह समेकित बैंक देश के सार्वजनिक क्षेत्र का दूसरा सबसे बड़ा बैंक होगा। इससे इसकी भौगोलिक पहुंच बढ़ेगी और इसकी शाखाओं की संख्या 95,00 से अधिक, एटीएम की संख्या 13400 से अधिक और कर्मचारियों की संख्या 85,000 से अधिक होगी, जो 120 मिलियन से अधिक ग्राहकों को सेवा उपलब्ध कराएंगे। समेकन के बाद, बैंक का मिश्रित कारोबार 15 लाख करोड़ रुपये से अधिक का होगा। इसके जमा एवं अग्रिम क्रमशः 8.75 लाख करोड़ से अधिक व 6.25 लाख करोड़ से अधिक होंगे।


यह भी पढ़ें: दूध का उत्पादन कम और खपत ज्यादा, अप्रैल में 2 रुपए प्रति लीटर तक बढ़ेंगे दाम

बैंक की योजना तीनों बैंकों की सम्मिलित क्षमता, उनकी सहक्रियाओं को उपयोग में लाने की है और व्यापक ग्राहक आधार के साथ संबंध को गहरा बनाते हुए परिचालनों को बढ़ाने की है। महाराष्ट्र, गुजरात, केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक एवं आंध्र प्रदेश में पूरक शाखाओं का नेटवर्क बढ़ जाएगा। गुजरात में बैंक के पास 22 प्रतिशत की बाजार हिस्सेदारी होगी और महाराष्ट्र,
कर्नाटक, राजस्थान एवं उत्तर प्रदेश में बाजार हिस्सेदारी 8 से 10 प्रतिशत के बीच होगी।

ग्राहकों को लाभ

तीनों बैंकों के सभी ग्राहकों को इस प्रक्रिया का लाभ मिलेगा। 120 मिलियन से अधिक ग्राहक बेहतरीन बैंकिंग सेवा का अनुभव ले सकेंगे और नकद प्रबंधन समाधान, आपूर्ति श्रृंखला वित्तपोषण, वित्तीय प्लानिंग, संपत्ति प्रबंधन सेवाओं आदि सहित व्यापक प्रोडक्ट रेंज का लाभ उठा सकेंगे। 22,000 से अधिक टच प्वॉइंट्स एवं वर्द्धित ग्राहक पहुंच के साथ, ये लाभ और भी अधिक बढ़ जाएंगे। तीनों बैंकों के एनआरआई ग्राहकों के लिए अब भारत में विशाल नेटवर्क उपलब्ध होगा।


यह भी पढ़ें:
जेट एयरवेज के बहाने गिरवी रखी अपनी प्रॉपर्टीज बेचना चाहता है माल्या

विजया बैंक के शेयरधारकों को ज्यादा फायदा

BoB के निदेशक मंडल ने विजया बैंक (Vijaya Bank) और देना बैंक (Dena Bank) के शेयरधारकों को BoB के इक्विटी शेयर जारी और आवंटित करने के लिए रिकॉर्ड डेट 11 मार्च तय गई थी। विलय योजना के तहत विजया बैंक के शेयरधारकों को प्रत्येक 1,000 शेयर पर BoB के 402 इक्विटी शेयर मिलेंगे। इसी तरह देना बैंक के शेयरधारकों को प्रत्येक 1,000 शेयरों पर BoB के 110 शेयर ही मिलेंगे।

सब कुछ नया हो जाएगा

बैंकों के विलय के बाद ग्राहकों के लिए सब-कुछ नया हो गया
1. ग्राहकों को नया अकाउंट नंबर और कस्टमर आईडी मिल सकता है।
2. जिन ग्राहकों को नए अकाउंट नंबर या IFSC कोड मिलेंगे, उन्हें नए डीटेल्स इनकम टैक्स डिपार्टमेंट, इंश्योरंस कंपनियों, म्यूचुअल फंड, नैशनल पेंशन स्कीम (एनपीएस) आदि में अपडेट करवाने होंगे।
3. SIP या लोन EMI के लिए ग्राहकों को नया इंस्ट्रक्शन फॉर्म भरना पड़ सकता है।
4. नई चेकबुक, डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड इशू हो सकता है।
5. फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) या रेकरिंग डिपॉजिट (आरडी) पर मिलने वाले ब्याज में कोई बदलाव नहीं होगा।
6. जिन ब्याज दरों पर वीइकल लोन, होम लोन, पर्सनल लोन आदि लिए गए हैं, उनमें कोई बदलाव नहीं होगा।
7. कुछ शाखाएं बंद हो सकती हैं, इसलिए ग्राहकों को नई शाखाओं में जाना पड़ सकता है।

इस अवसर पर टिप्पणी करते हुए, पीएस बैंक ऑफ बड़ौदा के एमडी और सीईओ जयकुमार ने कहा कि हम बेहद खुश हैं कि बैंक ऑफ बड़ौदा, विजया बैंक और देना बैंक नेटवर्क और ग्राहक आधार के मामले में दूसरा सबसे बड़ा बैंक बनाने के लिए साथ आए हैं। हम एक मजबूत संगठन बनाने के लिए सभी गतिविधियों के प्रभावी निष्पादन द्वारा समामेलन की सफलता के लिए काम करेंगे और व्यक्तिगत संस्थाओं के योग की तुलना में सामूहिक रूप से अधिक हिस्सेदारी धारकों को वितरित करेंगे। तीन बैंकों के उत्पादों का विविध गुलदस्ता, प्रौद्योगिकी में किए गए पर्याप्त निवेश और एनालिटिक्स एंड एआई और प्रौद्योगिकी केंद्र पर व्यापक ग्राहक आधार के लाभ में मदद मिलेगी।

 

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है