Covid-19 Update

2,00,328
मामले (हिमाचल)
1,94,235
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,881,965
मामले (भारत)
178,960,779
मामले (दुनिया)
×

घर में लगाएंगे ये सात पौधे तो बरसात में नजदीक नहीं आएंगे मच्छर

घर में लगाएंगे ये सात पौधे तो बरसात में नजदीक नहीं आएंगे मच्छर

- Advertisement -

बरसात के साथ-साथ मच्छर भी आपके घर पर बिना बुलाए मेहमान की तरह चले आते हैं और साथ लाते हैं डेंगू, चिकगुनिया और मलेरिया जैसी जानलेवा बीमारी। इस स्थिति में सबसे जरूरी हो जाता है उन तकनीकों को अपनाना जिससे मच्छर ( Mosquitoes) घर में ना आएं। बाजार में ऐसे कई तरह के क्रीम और अन्य दवाएं आती हैं लेकिन इन सबसे स्किन को खतरा रहता है। हम आपको कुछ नेचुरल तकनीक के बारे में बताते हैं जो आपके घर में मच्छर आने से भी रोकेगी और आपकी सेहत को किसी तरह का नुकसान भी नहीं होगा। आप घर पर कुछ पौधे लगाकर मच्छरों और बीमारियों से बच सकते हैं …

यह भी पढ़ें:  दांतों और मसूड़ों को रखना है सलामत तो सोच-समझकर खरीदें टूथब्रश

 


रामा तुलसी (हरी तुलसी), श्यामा तुलसी (काली तुसली), जंगली तुलसी (जंगल में पनपनेवाली तुलसी की एक विशेष प्रजाति) मीठा नीम (करी पत्ता), अजवायन और पुदीना। ये 7 ऐसे पौधे हैं, जिन्हें गमलों में लगाकर अगर आप अपने घर की बालकनी में रख लेते हैं तो आपके घर में बालकनी के जरिए मच्छरों का प्रवेश बंद हो जाएगा। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि इन पौधों की प्राकृतिक खुशबू (Natural fragrance) के आस-पास भी मच्छर नहीं आते हैं। मच्छरों को मारने वाले नेचुरल हर्बल स्प्रे में भी इस पौधों के अर्क और अरोमा का उपयोग किया जाता है।

 

 

तुलसियों में से मच्छरों पर सबसे अधिक प्रभावी जंगली तुलसी होती है। इस तुलसी को कमरे में रखकर यदि आप कमरे के दरवाजे बंद कर देंगे तो कुछ ही घंटे में कमरे के सारे मच्छर गायब हो जाएंगे। इसके साथ ही आप घर में सुबह और शाम के समय कपूर और गुग्गुल का धुआं करें। इसके लिए मिट्टी के एक बड़े दीये में सबसे नीचे सामग्री रखें, उसके ऊपर गुग्गुल और उसके ऊपर जलता हुआ कपूर रख दें। इनकी खुशबू से भी मच्छर घर में नहीं आते हैं।

 

 

पुदीना, अजवाइन और करीपत्ता भी ऐसी प्राकृतिक हर्ब्स हैं, जिनकी खूशबू से मच्छर दूर भागते हैं साथ ही घर की हवा को शुद्ध बनाए रखने में इन पोधों का प्राकृतिक अरोमा बहुत अधिक लाभकारी होता है। इन पौधों की खुशबू से मन शांत और खुश रहता है। इनका प्राकृतिक ऑइल बहुत ही सूक्ष्म कणों के रूप में घर की हवा में मिल जाता है और हानिकारक वायरस, बैक्टीरिया को खत्म करता है।

इसके अलावा सुबह और शाम के समय घर के दरवाजे बंद रखें क्योंकि इन दोनों ही समय बाहर के मच्छर घर के अंदर प्रवेश करते हैं। आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि सुबह के समय मच्छर रोशनी से अंधेरे की तरफ और शाम के समय अंधेरे से रोशनी की तरफ आते हैं इसलिए जब आप सुबह के समय घर के दरवाजे और खिड़कियां खुली रखते हैं तो बाहर के मच्छर छिपने के लिए आपके घर में प्रवेश करते हैं। वहीं, शाम के समय जब बाहर अंधेरा होने लगता है और आप घर की लाइट्स ऑन कर लेते हैं तो रोशनी से आकर्षित होकर मच्छर आपके घर में प्रवेश करते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है