×

23 करोड़ लोगों वाले UP में Corona के लिए हुए सिर्फ 7000 टेस्ट: CM से प्रियंका

23 करोड़ लोगों वाले UP में Corona के लिए हुए सिर्फ 7000 टेस्ट: CM से प्रियंका

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर जारी है। कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए पूरे भारत (India) को 21 दिनों के लिए देशव्यापी लॉकडाउन (Lockdown) पर रखा गया है। इस बीच कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ को खत में लिखा है कि राज्य की आबादी 23 करोड़ के आसपास है जबकि टेस्टिंग के लिए सिर्फ 7000 सैंपल भेजे गए। उन्होंने कहा कि आबादी के हिसाब से टेस्टिंग की संख्या बहुत कम है और टेस्टिंग को तेज़ी से बढ़ाना रामबाण साबित हो सकता है।


उन्होंने योगी को लिखे पत्र यह भी कहा कि संकट की इस घड़ी में कांग्रेस, सरकार की हरसंभव मदद के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि छह करोड़ की आबादी वाले देश दक्षिण कोरिया ने हर 1,000 लोगों पर करीब 6 लोगों की जांच की और वायरस के संक्रमण को रोकने में सफलता हासिल की है। राजस्थान के भीलवाड़ा में 9 दिनों के भीतर 24 लाख लोगों की स्क्रीनिंग करके ज्यादा से ज्यादा जांच की गईं और संक्रमित लोगों की पहचान की गई। उनके मुताबिक जांच की संख्या बढ़ाने से आईसीयू पर कम से कम दबाव पड़ेगा। साथ ही अपने ‘आइसोलेशन वार्ड और क्वारंटीन सेंटर्स’ को मानवीय गरिमा के अनुरूप बनाना पड़ेगा।

कांग्रेस महासचिव ने कहा, ‘ऐसी कई खबरें आ रही हैं कि संक्रमित व्यक्ति अपनी बीमारी छुपाने की भी कोशिश कर रहे हैं। यह कोरोना के बारे में फैले सामाजिक भय के चलते हो रहा है। ऐसे में युद्धस्तर पर सही सूचना दी जाए और अफ़वाहों व गलत धारणाओं के फैलने पर तत्काल रोक लगे।’ उन्होंने पत्र में लिखा है कि सरकार ने मास्क पहनना अनिवार्य घोषित किया है। ऐसे में मास्क व सैनिटाइजर का युद्धस्तर पर वितरण सुनिश्चित किया जाए।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है