Covid-19 Update

2,16,430
मामले (हिमाचल)
2,11,215
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,380,438
मामले (भारत)
227,512,079
मामले (दुनिया)

Breaking: हिमाचल के किन्नौर में सड़क से लुढ़की कार सतलुज में समाई, पति-पत्नी लापता

हादसे के बाद से कार और उसमें सवारों का नहीं लगा सुराग, पुलिस सीआईएसएफ तलाश में जुटी

Breaking: हिमाचल के किन्नौर में सड़क से लुढ़की कार सतलुज में समाई, पति-पत्नी लापता

- Advertisement -

भावानगर। हिमाचल के किन्नौर जिला में एक दर्दनाक सड़क हादसा (Road accident) हुआ है। इस हादसे में कार में सवार पति पत्नी लापता (Missing) बताए जा रहे हैं। हादसा किन्नौर जिला के भावानगर के पास हुआ है। हादसे में कार सड़क से लुढ़क कर सतलुज नदी (Sutlej River) में जा समाई। हादसे के बाद से कार और उसमें सवार दंपति का अभी तक कोई सुराग नहीं लग पाया है। वहीं हादसे की जानकारी मिलते ही पुलिस प्रशासन के अलावा सीआईएसएफ के जवान मौके पर पहुंच गए हैं और सर्च अभियान शुरू कर दिया है। वहीं पुलिस मामला दर्ज कर आगामी जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें:हिमाचल के सोलन में हुए दो हादसे: एक की गई जान , दो पहुंचे अस्पताल

मिली जानकारी के अनुसार भावानगर के पास लुतुक्सा से पुलिस को सूचना मिली कि एक गाड़ी लगभग 100 मीटर गहरी खाई में गिर गई है। खाई जहां खत्म हो रही है वहां सतलुज नदी बह रही है। हालांकि अभी तक कार और उसमें सवारों का कोई सुराग नहीं लगा है। सिर्फ सड़क से लुढ़ते समय पहाड़ी पर कार का बंपर फंसा रह गया है, जिस पर अंकित कार के नंबर से कार मालिक के बारे में पता चल पाया है। यह कार पदम सिंह पुत्र काली चरण निवासी गांव डैट सुंगरा भावानगर तहसील निचार जिला किन्नौर (Kinnaur) के रूप में हुई है। गाड़ी में सवार व्यक्तियों के बारे में जब जानकारी जुटाई गई तो उपप्रधान ग्राम पंचायत सुंगरा ने बताया कि गाड़ी में पदम सिंह व उसकी पत्नी (Husband Wife) और उनके साथ दो मजदूर सवार थे। ये दोनों मजदूर अपने गंत्वय स्थान पर पहुंच चुके हैं। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि गाड़ी सतलुज नदी में बह गई हो। जिसके चलते पुलिस प्रशासन और स्थानीय लोग कार सवारों की तलाश में जुटे हुए हैं।

 

 

किन्नौर के निगुलसरी में कल सुबह से शाम तक बंद रहेगा एनएच

किन्नौर जिला के निगुलसरी में हुए भूस्खलन क्षेत्र में अभी भी छोटे छोटे पत्थर गिर रहे हैं। जिससे एनएच पर आने जाने वाले वाहन चालकों के लिए खतरा बना हुआ है। ऐसे में जिला प्रशासन और पीडब्ल्यूडी ने लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए पहाड़ी पर लूज पत्थरों को एक साथ ही गिराने का फैसला लिया है। जिससे इस मार्ग को आवागमन के लिए सुरक्षित बनाया जा सके। इसी के चलते 30 अगस्त को यह मार्ग सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक बंद रहेगा। जिला प्रशासन और लोक निर्माण विभाग ने लोगों से अपील की है कि 30 अगस्त को इस मार्ग पर आवाजाही ना करें।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है