Covid-19 Update

1,98,551
मामले (हिमाचल)
1,90,377
मरीज ठीक हुए
3,375
मौत
29,505,835
मामले (भारत)
176,585,538
मामले (दुनिया)
×

सावधान! कहीं आप भी इस बीमारी की शिकार तो नहीं

सावधान! कहीं आप भी इस बीमारी की शिकार तो नहीं

- Advertisement -

आजकल अनियमित पीरियड्स की समस्या टीनएजर्स में बेहद आम हो गई है। यही समस्‍या आगे चलकर पीसीओएस का रूप ले सकती है।पॉलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम (PCOS ) एक ऐसी बीमारी हैं जिसमें अंडाशय में सिस्‍ट यानी गांठ आ जाती है। इसे मल्‍टीसिस्टिक ओ‍वेरियन डिजीज भी कहा जाता है। अंडडिंबों और हार्मोंस में गड़बड़ी इस बीमारी के मूल कारण होते हैं। यह बीमारी अनुवांशिक भी हो सकती है। पहले यह बीमारी तीस साल से ज्यादा उम्र की महिलाओं में बीमारी पाई जाती थी, लेकिन अब कम उम्र की लड़कियों में भी यह समस्‍या पाई जा रही है।

PCOS एंडोक्राइन से जुड़ी ऐसी स्थिति है जिसमें महिलाओं के शरीर में एंड्रोडेन्स या मेल हार्मोन अधिक होने लगते हैं। ऐसे में शरीर का हार्मोनल संतुलन गड़बड़ हो जाता है जिसका असर अंडों के विकास पर पड़ता है। इससे ओव्यूलेशन व मासिक चक्र रुक सकता है। अल्ट्रासाउंड की मदद से ओवरी का साइज और उनमें आने वाले बदलाव देखे जा सकते हैं। ओवरी में अगर सिस्ट हो तो वह भी अल्ट्रासाउंड में नजर आ जाता है। इसके अलावा ब्लड में हार्मोन का लेवल ज्यादा होने पर बीमारी का पता चल सकता है।


आजकल कुछ लड़कियों में दूसरे की तुलना में पीरियड के समय ज्यादा ब्लीडिंग होती है और ज्यादा दिन तक होती है। बहुत ज्यादा ब्लीडिंग की वजह से कुछ लड़कियों में अनीमिया का रिस्क हो जाता है। ऐसी स्थिति में डॉक्टरी मदद की जरूरत पड़ती है। लाइफस्टाइल की वजह से भी आजकल की लड़कियों को कई प्रकार की दिक्कतें होती हैं, जिनमें मोटापा, नींद कम होना, स्ट्रेस शामिल है।

बचने के लिए क्या करें

– संतुलित जीवनशैली अपनाएं
– सोने का समय निर्धारित करें, देर रात तक न जगें
– सुबह जल्दी उठें
– एक्सरसाइज करें
– जंक फूड से बचें
– स्मोकिंग और एल्कोहल से दूर रहें
– घर का खाना ही खाएं
– साफ सफाई पर ध्यान दें

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है