Covid-19 Update

2,17,140
मामले (हिमाचल)
2,11,871
मरीज ठीक हुए
3,637
मौत
33,501,851
मामले (भारत)
229,513,714
मामले (दुनिया)

दो मामले: तांत्रिक ने ‘हनुमान सिक्के’ के लिए काटा सिर; Corona भगाने के लिए पुजारी ने दी मानव बलि

दो मामले: तांत्रिक ने ‘हनुमान सिक्के’ के लिए काटा सिर; Corona भगाने के लिए पुजारी ने दी मानव बलि

- Advertisement -

नई दिल्ली। देश में जारी कोरोना वायरस के कहर के बीच देश के दो राज्यों से अंधविश्वास (Superstition ) के कारण मानव बलि देने के दिल दहलाने वाले मामले सामने आए हैं। पहला मामला झारखंड (Jharkhand) के सरायकेला जिले से सामने आया है। जहां एक तांत्रिक ने अपने तीन साथियों के साथ एक ऐसे युवक की सिर काटकर हत्या कर दी थी जिसके पास हनुमान की मूर्ति वाला सिक्का था। वहीं दूसरा मामला ओडिशा (Odisha) के कटक जिले से सामने आया है, जहां पर एक मंदिर के पुजारी ने कोरोना वायरस भगाने के लिए मंदिर में मानव बलि दे दी। आइये दोनों मामलों के बारे में एक-एक कर जानते हैं।

हनुमान सिक्का पाने के लिए तांत्रिक ने कर दिया क़त्ल

तांत्रिक ने जिस शख्स को अपने साथियों के साथ मिलकार मारा उसके पास हनुमान की मूर्ति वाला सिक्का था। तांत्रिक का मानना था कि जिसके पास यह सिक्का होता है, उसके पास कई सिद्धियां होती हैं और वह धनवान होता है। रिपोर्ट्स के अनुसार जिले के सरायकेला थाना अंतर्गत कोलाबड़िया पुल के नीचे खरकई नदी से एक युवक का सिर कटा शव बरामद किया गया था। अब पुलिस ने पूरे मामले का सनसनीखेज खुलासा करते हुए हत्याकांड के पीछे का कारण तांत्रिक सिद्धि बताया। जिला पुलिस ने हत्याकांड से जुड़े सभी चार अभियुक्तों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस द्वारा बताया गया कि मृतक बागुन सोय की हत्या हनुमान सिक्का के लिए की गई है। इस सिक्के को पाने के लिए सभी आरोपियों ने बागुन सोय की हत्या कर दी। वहीं पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी, हत्यारों की बाइक, मृतक की बाइक, मोबाइल फोन और दो हनुमान सिक्के बरामद किए हैं।

कोरोना भगाने के लिए पुजारी ने सिर काटकर चढ़ाया

एक पुजारी ने मंदिर में मानव बलि दे दी। उसको यह विश्वास था कि इससे घातक कोरोना वायरस नष्ट हो जाएगा। पुजारी ने बताया कि भगवान ने उसे सपने में आदेश दिया कि मानव बलि से कोरोना का कहर खत्म हो जाएगा। मिली जानकारी के अनुसार जिले के बंधहुडा गांव में बुधवार रात मां ब्राह्मणी देवी मंदिर परिसर के अंदर पुजारी ने एक व्यक्ति की बलि चढ़ा दी। मंदिर परिसर के अंदर एक व्यक्ति का शव मिला। मरने वाले का नाम सरोज कुमार प्रधान (52) था। पुलिस ने हत्या के लिए इस्तेमाल किए हथियार को जब्त कर लिया और आरोपी पुजारी संसार ओझा से पूछताछ करने पर पुलिस को यह हैरान कर देने वाली बात पता लगी। पुजारी ने कोरोना वायरस को रोकने के लिए आदमी को मारने की बात कबूल की है। पुजारी ने बताया कि भगवान ने उसे सपने में ऐसा काम करने का आदेश दिया था। पुलिस ने आरोपी पुजारी संसारी ओझा को हिरासत में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है