Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर रोक लगाने के लिए केंद्र सरकार ने उठाया ये कदम

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर रोक लगाने के लिए केंद्र सरकार ने उठाया ये कदम

- Advertisement -

नई दिल्ली। अमेरिका और ईरान (America and Iran) के बीच चल रहे तनातनी की स्थिति के कारण कच्चे तेल (Crude oil) के दामों में तेजी आई है जिसके चलते पेट्रोल-डीजल (Petrol and diesel) की कीमतों में बढ़ोतरी देखने में आई है। पट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को रोकने के लिए केंद्र सरकार ने एक ख़ास प्लान शुरू किया है। पेट्रोलियम मंत्रालय (Ministry of Petroleum) ने सरकारी तेल कंपनियों (Government oil companies) के साथ आपात बैठक कर तेल की कीमतों के बढ़ने के पहले कोई ठोस कदम उठाने के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें :- कच्चे तेल के दामों में आई गिरावट, कम हो सकते हैं पेट्रोल-डीजल के दाम

बता दें, यदि कच्चा तेल 10 डॉलर प्रति बैरल महंगा होता है तो हर महीने भारत का आयात बिल 1.5 अरब डॉलर तक बढ़ेगा। महंगे तेल का सीधा असर रीटेल महंगाई पर पड़ता है और यह 0.40 फीसदी बढ़ जाती है। जानें तेल की कीमतों को कम करने के लिए सरकार का प्लान क्या है।


 प्लान-1 : लॉन्ग टर्म कॉन्ट्रैक्ट पर ज्यादा सप्लाई की कोशिश। सऊदी अरब, कुवैत, नाइजीरिया, UAE से बातचीत होगी।  इराक से भी सप्लाई बढ़ाने का आग्रह किया है।

प्लान-2 : स्पॉट मार्केट से पर्याप्त क्रूड कांट्रैक्ट (Crude Contract) की तैयारी कर रही है। लान्ग टर्म कांट्रैक्ट पर खरीद पहली प्राथमिकता होगी.एक्शन

प्लान-3 : गैर खाड़ी देशों से सप्लाई बढ़ाने की कोशिश होगी। अमेरिका, रूस ने ज्यादा सप्लाई का भरोसा दिया है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है