Expand

केंद्र मेहरबानः Himachal को 69 करोड़ जारी पर शर्त

केंद्र मेहरबानः Himachal को 69 करोड़ जारी पर शर्त

- Advertisement -

शिमला। देवभूमि के खुला शौच मुक्त होने के बाद केंद्र ने भी राज्य के प्रति नरमी दिखाई है। इस पहाड़ी राज्य के लिए केंद्र ने आर्थिक मदद शुरू कर दी है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत हिमाचल को और वित्तीय मदद मिलनी शुरू हो गई है। इससे राज्य के गांवों में स्वच्छता पर और फोक्स किया जाएगा। केंद्र ने गावों की स्वच्छता के लिए 69 करोड़ रुपए की राशि जारी की है।hp-govt

  • राशि का इस्तेमाल ग्रामीण क्षेत्रों में ही होगा
  • खुला शौच मुक्त होने के बाद मिला तोहफा

गौर हो कि हिमाचल प्रदेश पिछले माह ही ओडीओ यानी खुला शौच मुक्त राज्य घोषित हुआ है। केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने इस राज्य को यह तमगा दिया था। इसके बाद केंद्र की तरफ से राज्य के वित्तीय मदद के दरवाजे खुल गए। स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) मंत्रालय ने पेयजल और स्वच्छता के लिए करीब 69 करोड़ रुपए जारी किए।

open-defecation-freeकेंद्र ने यह राशि इस शर्त कर जारी है कि इसका इस्तेमाल ग्रामीण क्षेत्रों पर ही किया जाए। इस संबंध में केंद्रीय मंत्रालय के मिशन निदेशक निपुण विनायक ने हिमाचल सरकार को सूचना दे दी है। विनायक ने यह फंड जारी करने के बारे में ग्रामीण स्वच्छता के प्रभारी प्रधान सचिव, स्वच्छ भारत मिशन के राज्य समन्वयक और वित्त सचिव को पत्र लिखा है। इसके मुताबिक केंद्र से अनुसूचित जाति के स्पेशल कंपोनेंट प्लान में स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के तहत 23.77 करोड़ रुपये मिले हैं।

जनजातीय सब प्लान के तहत 2.41 करोड़ रुपए जारी हुए हैं। सबसे ज्यादा पैसा सामान्य क्षेत्रों के लिए जारी हुआ है। इसके लिए 41.95 करोड़ रुपए जारी हुए हैं। इससे पहले अगस्त माह में केंद्र ने प्रदेश को फंड जारी किया था। तब शहरी क्षेत्रों के लिए धन आया था और शहरी क्षेत्रों के लिए 1.78 करोड़ मिला था। इसके अलावा एससी कंपोनेंट के तहत 17.14 करोड़ जारी हुए थे और सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट के तहत 4.31 करोड़ हासिल हुए थे।

जनजातीय क्षेत्रों के लिए 1.74 करोड़ जारी हुए थे। अब दूसरी किस्त ग्रामीण क्षेत्रों के लिए आई है। केंद्र ने ग्रामीण इलाकों के लिए धनराशि जारी करते हुए इसे खर्च करने को लेकर भी वित्तीय निर्देश जारी किए हैं। अब राज्य सरकार पर इस राशि को तय मानकों पर खर्च करने की जिम्मेदारी है। इसमें सफल रहने के बाद केंद्र से इस मिशन के तहत और धनराशि मिलने की उम्मीद भी बढ़ी है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है