×

केंद्र सरकार के निर्देश: प्राकृतिक आपदाओं से बचने के लिए बेहतर तैयारी करें प्रदेश सरकारें

केंद्र सरकार के निर्देश: प्राकृतिक आपदाओं से बचने के लिए बेहतर तैयारी करें प्रदेश सरकारें

- Advertisement -

नई दिल्ली। केंद्र ने राज्य सरकारों को प्राकृतिक आपदाओं से निपटने के लिए बेहतर ढंग से तैयारी करने के निर्देश दिए हैं। देश भर में प्रतिवर्ष प्राकृतिक आपदाओं की वजह से औसतन 2200 लोगों की जान जाती है और 60,000 करोड़ का आर्थिक नुकसान होता है। शुक्रवार को राज्य राहत आयुक्तों और सचिवों के वार्षिक सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए केंद्रीय गृह सचिव राजीव गौबा ने कहा कि, 2005-14 के दौरान विभिन्न प्राकृतिक आपदाओं और बाढ़ के कारण भारत को लगभग 60,000 करोड़ रुपये का आर्थिक नुकसान भुगतना पड़ा। गौबा ने केंद्र और राज्य सरकारों के सभी संबंधित अधिकारियों से बाढ़, चक्रवात, भूकंप आदि जैसी प्राकृतिक आपदाओं के कारण होने वाले नुकसान को कम करने के लिए बेहतर तैयार होने के लिए कहा।


उन्होंने कहा, “हमें मौसम का बेहतरपूर्वानुमान, मॉक ड्रिल और बेहतर संसाधन प्रबंधन आयोजित करके अपनी क्षमताओं का निर्माण करना है। गौबा ने कहा कि भारत बाढ़ प्रवण है, क्योंकि थोड़े समय में भारी मात्रा में वर्षा होती है। लेकिन बेहतर तैयारी के माध्यम से नुकसान को कम किया जा सकता है। उन्होंने कहा, हालांकि पिछले कई वर्षों में निरंतर प्रयासों ने हम प्राकृतिक आपदाओं के प्रभाव को कम करने में कामयाब रहे हैं, फिर भी सुधार के लिए जगह है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है