Covid-19 Update

1,47,298
मामले (हिमाचल)
1,08,239
मरीज ठीक हुए
2098
मौत
23,703,665
मामले (भारत)
161,117,824
मामले (दुनिया)
×

चैत्र नवरात्र-कोरोना की दूसरी लहर के बीच मंदिरों में पहुंचे लोग-टेका माथा

श्री नैना देवी मंदिर को फूलों और गुब्बारों से सजाया गया

चैत्र नवरात्र-कोरोना की दूसरी लहर के बीच मंदिरों में पहुंचे लोग-टेका माथा

- Advertisement -

कोरोना की दूसरी लहर (Second wave of Corona) के बीच आज से चैत्र नवरात्र शुरू (Chaitra Navaratri ) हो गए हैं। हिमाचल प्रदेश में मंदिरों में श्रद्धालु कोरोना गाइडलाइन के तहत शीश नवाने पहुंच रहे हैं। कांगड़ा स्थित मां बज्रेश्वरी देवी, मां चामुंडा, ज्वालामुखी, चिंतपूर्णी व मां नैना देवी में सुबह से ही लोग माथा टेकने पहुंचे थे। मां नैना देवी में आरती और झंडा चढ़ाने की रस्म के साथ ही चैत्र नवरात्र मेले शुरू हो गए। आज मां के शैलपुत्री स्वरूप की पूजा की जा रही हैं।


यह भी पढ़ें :-  #Navratri_Special: शुभ मुहूर्त में करें कलश स्थापना, यह रही सामग्री की लिस्ट


श्री नैना देवी मंदिर को पंजाब से आए कारीगरों के द्वारा फूलों और गुब्बारों से सजाया गया है। इस बार नवरात्र में हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा जारी एसओपी (SOP) के मुताबिक श्रद्धालु मंदिर में हवन यज्ञ नहीं कर पाएंगे और ना ही माता को प्रसाद चढ़ा पाएंगे। नवरात्रि के दौरान कोविड-19 महामारी का संक्रमण ना फैले इसको लेकर सभी सावधानियां बरती जा रही हैं। मंदिर के मुख्य द्वार पर (Automatic Sanitizer Machines) ऑटोमेटिक सैनिटाइजर मशीनें लगाई गई हैं। बार-बार मंदिर को सैनिटाइज भी किया जा रहा है। श्रद्धालुओं को यह जरूरी कर दिया गया है कि वह मास्क (Mask) लगाकर ही मंदिर में प्रवेश करें बिना मास्क लगाए श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश करने पर मना किया जा रहा है।

 

चिंतपूर्णी में 2 साल बाद लगे चैत्र नवरात्र के मेले

ऊना।  विश्व विख्यात शक्ति पीठ मन्दिर माता चिन्तपूर्णी में चैत्र नवरात्र मेले का मंगलवार को विधिवत शुभारंभ किया गया। वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण इस मेले का आयोजन 2 साल के बाद किया जा रहा है। साल 2020 में लॉकडाउन के चलते यह मेला रद्द करना पड़ा था। इस बार मेले के आयोजन के लिए जिला प्रशासन द्वारा पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। वहीं मंगलवार को मेले के पहले दिन श्रद्धा का सैलाब देखने को मिला। इस बार सरकार द्वारा कोविड नियमों के चलते मन्दिर खुले रहने के आदेशों के बीच मेले के आयोजन को हरी झंडी दिखाई गई है। जिस के चलते श्रद्धालु माता के दरवार पहुंच रहे हैं। नवरात्र के चलते मन्दिर को भी रंग विरंगे फूलों व लाईटों से सजाया गया हैं।

 

मन्दिर प्रशासन ने नवरात्र के चलते सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। मन्दिर के बहुमंजिला भवन में दर्शन पर्ची की व्यवस्था की गई है। वहीं पर श्रद्धालुओं की थर्मल स्कैनिग की जा रही हैं। मन्दिर परिसर में दर्शन स्थल पर हैंड सनेटेजर की व्यवस्था की गई हैं। पिछले साल कोरोना के चलते मन्दिर बंद था, परंतु इस बार कोविड नियमों की पालना करते हुए श्रद्धालु माता जी के दर्शन के लिए पहुंच रहे है। डीसी राघव शर्मा ने बताया कि चिंतपूर्णी में नवरात्र मेला के लिए कोरोना महामारी से बचाव को लेकर विशेष दिशा निर्देश जारी किये गए और श्रद्धालुओं को इन दिशा निर्देशानुसार ही मंदिर में प्रवेश मिल रहा है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है