Covid-19 Update

59,197
मामले (हिमाचल)
57,580
मरीज ठीक हुए
987
मौत
11,244,092
मामले (भारत)
117,591,889
मामले (दुनिया)

चक्की खड्ड लीज मामले में परछोड़ और तारागढ़ पंचायतें मुखर

चक्की खड्ड लीज मामले में परछोड़ और तारागढ़ पंचायतें मुखर

- Advertisement -

चंबा। पूर्व केंद्रीय मंत्री शांता कुमार की गोद ली परछोड़ पंचायत में खड्ड लीज पर देने की प्रक्रिया से लोग चिंतित हैं। कृषि भूमि से निकले अन्न से अपना और परिवार का पालन-पोषण करने वाला किसान भूमि कटाव से चिंतित है तो पारंपरिक घराटों के मालिकों को घराट बंद हो जाने का डर है।
प्रदेश की खड्डों को खनन लीज पर सिर्फ स्थानीय पंचायतों को देने की प्राथमिकता के बावजूद पंचायत को बोली होने तक सूचित भी नहीं किया गया। खनन विभाग चक्की खड्ड का सीना छलनी कर चांदी कूट रहे अवैध खनन माफिया पर नुकेल नहीं कस पाया है। यहां चक्की खड्ड के 4 से 5 हैक्टेयर भाग को लीज पर निजी ठेकेदार को देने की औपचारिकताओं में जुटा है। दूसरी तरफ आदर्श पंचायत परछोड़ में शुरू हो चुका विरोध अब सांझे मंच पर आने को है। इसी के चलते 3 जनवरी को स्थानीय संगठन लाहड़ू में बैठक कर चक्की बचाओ संघर्ष समिति का गठन करेंगे। स्थानीय लोगों को जलस्तर के नीचे जाने से कृषि भूमि के कटाव के साथ पारंपरिक घराटों के बंद हो जाने का डर सताने है। लिहाजा खतरे का अंदेशा पंचायत के लोगों को एकजुट होने को मजबूर कर रहा है। बताते चलें कि लगातार खनन के चलते न सिर्फ चक्की, बल्कि प्रदेश की हजारों छोटी-बड़ी खड्डों का जलस्तर काफी नीचे जा चुका है।
लिहाजा यहीं से भारी बारिश के चलते भूमि कटाव तथा बाढ़ जैसी स्थिति की शुरुआत होती है। उधर, विभाग की चिंता निर्माण सामग्री के तौर पर इन संसाधनों से आय पर है। विभागीय सूत्रों की मानें तो पंचायत का विरोध सामने आने पर इस प्रक्रिया पर असर पड़ सकता है। उच्च अधिकारी भी मानते हैं कि स्थानीय पंचायत की अनापत्ति जरूरी है। दूसरी और इस संघर्ष में तारागढ़ पंचायत भी उतरने को तैयार है। आदर्श पंचायत परछोड़ की प्रधान सरिता चंबियाल ने इस बारे में उन्हें विभाग के सूचित न करने की बात कही। उधर, जब जिला खनन अधिकारी ज्योति पूरी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि निजी व्यक्ति को लीज देने की सूरत में पंचायत से औपचारिकताओं की जरूरत होती है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए सब्सक्राइब करें हिमाचल अभी अभी न्यूज अलर्ट

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है