Covid-19 Update

2,05,499
मामले (हिमाचल)
2,01,026
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,526,589
मामले (भारत)
196,267,832
मामले (दुनिया)
×

Solan में नीली बत्ती के प्रयोग पर तीन के Challan

Solan में नीली बत्ती के प्रयोग पर तीन के Challan

- Advertisement -

Challan :सोलन। प्रदेश में बाहरी राज्यों से आने वाली अधिकारियों की गाड़ी पर अभी भी नीली बत्ती का प्रयोग हो रहा है, जिसे देख ऐसा प्रतीत होता है कि अधिकारियों के लिए अभी तक वीआईपी कल्चर खत्म नहीं हुआ है। हालांकि वीआईपी कल्चर खत्म करने के लिए केंद्र सरकार व राज्य सरकारों ने कुछ ही हफ्ते पहले ही अधिसूचना जारी कर दी गई थी। लेकिन बाहरी राज्यों के अधिकारी इस अधिसूचना की अवहेलना करते हुए सोलन जिला में दिखाई दे रहे हैं औरर सरेआम कवर में ढक कर नीली बत्ती का प्रयोग करते दिखाई दिए।

Challan : तीनों गाड़ियां बाहरी राज्यों की, यहां आए थे घूमने

वहीं कालका – शिमला नेशनल हाई-वे पर चैंकिंग के दौरान शनिवार व रविवार को बाहरी राज्यों से आए तीन अधिकारियों की गाड़ी में अवैध रूप से लगाई गई नीली बत्ती देखकर गाड़ी को रुकवा कर चालान भी किए गए।


बता दें कि यह तीनों गाड़ियां पजाब राज्य की हैं। जानकारी के अनुसार रविवार सुबह एक फोर्ड एडवेंडर गाड़ी कवर नीली बत्ती लगा कर परवाणू से सोलन की ओर जा रही थी। उक्त गाड़ी को स्थानीय पुलिस द्वारा जब रुकवा कर पूछताछ की गई तो गाड़ी चला रहे पीएस पाप्टा ने बताया कि वे भोपाल में आईजी हैं। इस दौरान देखा गया कि जैसे ही गाड़ी को रुकवाया गया तो पीएस पाप्टा ने एक दम गाड़ी से उतर कर बत्ती गाड़ी के अंदर छुपाने लगे। हालांकि पुलिस द्वारा कवर नीली बत्ती का प्रयोग करने पर चालान किया गया।

बिना ढकी नीली बत्ती के प्रयोग पर स्थानीय पुलिस ने चालान किया

वहीं कुछ समय बाद पुलिस थाना धर्मपुर के पास पंजाब के भटिंठा के डॉक्टर पवन अपने बेटे की गाड़ी को लेकर शिमला घूमने जा रहे थे। जिस गाड़ी पर भी कवर नीली बत्ती का प्रयोग किया जा रहा था, धर्मपुर पुलिस द्वारा रोके जाने पर पूछताछ की गई तो डॉक्टर पवन ने बताया कि उनका बेटा कोलकता में एएसपी है। वहीं पुलिस द्वारा उक्त गाड़ी में अवैध रूप से लगाई गई नीली बत्ती को हटवा कर चालान किया गया।

शनिवार साथ ही देर शाम पंजाब राज्य से जज की गाड़ी लेकर आए प्रदीप कुमार द्वारा भी बिना ढकी नीली बत्ती के प्रयोग किए जाने पर स्थानीय पुलिस द्वारा नियमों की अवहेलना करने व नीली बत्ती लगाने पर चालान किया गया। डीएसपी परवाणू भीष्म सिंह से दूरभाष पर जानकारी देते हुए बताया कि नीली बत्ती का अवैध रूप से प्रयोग करने व नियमों की अवहेलना करने पर तीनों गाड़ियों के चालान किए गए हैं।

जेल में बंद विचारधीन कैदी वकील से ले सकता है सलाह

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है