Covid-19 Update

2,16,906
मामले (हिमाचल)
2,11,694
मरीज ठीक हुए
3,634
मौत
33,477,459
मामले (भारत)
229,144,868
मामले (दुनिया)

भयंकर चक्रवाती तूफान में बदल सकता है “अम्फान” 20 मई तक बढ़ा खतरा

भयंकर चक्रवाती तूफान में बदल सकता है “अम्फान” 20 मई तक बढ़ा खतरा

- Advertisement -

बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान “अम्फान” (Amfan) के अगले 12 घंटों के दौरान चक्रवाती तूफान (Cyclonic storm) में बदलने की आशंका है। साथ ही इसके सोमवार सुबह तक अत्यधिक गंभीर तूफान वाली श्रेणी में आने की बात कही जा रही है। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने बताया है कि दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी में आए तूफान अम्फान पिछले छह घंटे से उत्तर-उत्तर पश्चिम की तरफ बढ़ रहा है। रविवार सुबह 5.30 बजे इसमें तेजी दर्ज की गई। यह ओडिशा के दक्षिण पारादीप से 990 किमी, पश्चिम बंगाल के दक्षिण,दक्षिण पश्चिम दीघा से 1140 किमी और बांग्लादेश के दक्षिण, दक्षिण पश्चिम से 1260 किमी दूर है।

यह भी पढ़ें: अटक गया Monsoon, 4 दिन की देरी से 5 जून को पहुंचेगा केरल: मौसम विभाग

पश्चिम बंगाल और ओडिशा को तत्काल सहायता का निर्देश दिया

तूफान के अगले छह घंटों के दौरान और उसके बाद के 12 घंटों के दौरान चक्रवाती तूफान में बदलने की आशंका है। इसके अगले 24 घंटों के दौरान लगभग उत्तर की ओर बढ़ने की बात कही गई है। फिर यह तूफान उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी में उत्तर-पूर्व की ओर मुड़ेगा, इसके बाद इस तूफान के पश्चिम बंगाल (West Bengal) में सागर द्वीप समूह और बांग्लादेश के हतिया द्वीप समूह के बीच 20 मई की दोपहर या शाम को एक बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने की आशंका जताई गई है। राष्ट्रीय संकट प्रबंधन समिति (एनसीएमसी) ने चक्रवात की तैयारियों की समीक्षा कर पश्चिम बंगाल और ओडिशा को तत्काल सहायता का निर्देश दिया।

यह भी पढ़ें: दिल्ली से Haryana आने वालों का Corona Test जरूरी, नेगेटिव होने पर ही मिलेगी अनुमति

सीएम पटनायक बोले, जनहानि होने नहीं देंगे

चक्रवात की तैयारियों का जायजा लेने के लिए कैबिनेट सचिव राजीव गौबा की अध्यक्षता में एनसीएमसी की बैठक हुई। ओडिशा सरकार (Government of Odisha) की तरफ से कहा गया है कि राज्य सरकार ने लोगों को आश्वस्त किया कि वह किसी तरह की जनहानि होने नहीं देंगे। इसके लिए सरकार पूरी तरह से तैयार है। सीएम नवीन पटनायक (CM Naveen Patnaik) ने तूफान से राज्य में एक भी व्यक्ति की मौत नहीं होने देने को सुनिश्चित करने का लक्ष्य निर्धारित किया। चक्रवाती तूफान की गति और क्षमता को देखते हुए राज्य सरकार ने केंद्र से अनुरोध किया है कि वह इसके रास्ते से होकर गुजरने वाली सभी श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को अस्थाई रूप से स्थगित कर दे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है