Covid-19 Update

58,645
मामले (हिमाचल)
57,332
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,112,241
मामले (भारत)
114,689,260
मामले (दुनिया)

बागपत में खजाना: खुदाई के दौरान मिले महाभारत काल के रथ और मुकुट

बागपत में खजाना: खुदाई के दौरान मिले महाभारत काल के रथ और मुकुट

- Advertisement -

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के बागपत (Baghpat) जिले में खुदाई (excavation) के दौरान भारतीय पुरातत्व विभाग (आर्कियॉलजिकल सर्वे ऑफ इंडिया) (Archaeological Survey of India) को 4000 साल पुराने पवित्र कक्ष, शाही ताबूत, दाल-चावल से भरे मटके, तलवारें, औजार, मुकुट और इंसानों के साथ दफनाई गई जानवरों की हड्डियां मिली हैं। इसे पुरातत्व विभाग की बड़ी कामयाबी माना जा रहा है।

यह भी पढ़ें: गढ़चिरौली में नक्सलियों का आतंक: IED ब्लास्ट में 15 जवान शहीद, 36 वाहनों का फूंका


पत्रकारों से बातचीत के दौरान एएसआई इंस्टिट्यूट ऑफ़ आर्कियॉलजी के डायरेक्टर डॉ एस। के मंजुल ने कहा कि एएसआई को सनौली में महाभारत काल के कई प्राचीनतम सभ्यताओं के अवशेष मिले हैं। यहां जनवरी 2018 में खुदाई शुरू की गई थी, जिसमें उन्हें दो रथ, शाही ताबूत, तलवारें, मुकुट, ढाल मिले थे, जिससे ये बात साबित हो गया कि यहां करीब 2 हजार साल पहले सैनिक रहा करते थे।

यह भी पढ़ें: अयोध्या में गरजे मोदी, बोले – नया हिंदुस्तान छेड़ता नहीं, कोई छेड़ेगा तो छोड़ेंगे नहीं

उन्होंने आगे बताया कि इस बार हमें खुदाई में मिले अवशेष हड़प्पन सभ्यता से अलग मिले हैं। इसे देखकर ऐसा लगता है कि हाल ही में मिले अवशेष हड़प्पन सभ्यता के सबसे विकसित समय के हैं। इससे यह समझने में आसानी होगी कि यमुना और गंगा के किनारे कैसी संस्कृति होगी। खुदाई के दौरान हमें तांबे से बनी तलवारें, मुकुट, ढाल, रथ के अलावा चावल और उड़द दाल से भरे मटके मिले हैं।

यह भी पढ़ें: शिवसेना के बुर्का बैन मांग का साध्वी ने किया समर्थन, बीजेपी ने किया विरोध


इसके अलावा खुदाई में जमीन के अंदर कुछ पवित्र कक्ष भी मिले हैं। वहीं कब्रों के पास जंगली सूअर और नेवले के शव भी मिले हैं। इससे यह समझ में आता है कि जानवरों की बलि दिवंगत आत्माओं को दी गई होगी। फिलहाल एएसआई खुदाई में मिले अवशेषों का डीएनए, धातु शोधन और बोटानिकल एनालिसिस कर रही है। बता दें कि सनौली में मिली कब्रों को महाभारत काल से भी जोड़कर देखा जाता रहा है। क्योंकि महाभारत काल (Mahabharata period) में पांडवों के मांगे 5 गांवों में बागपत भी शामिल था।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Like करें हिमाचल अभी अभी का Facebook Page….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है