Covid-19 Update

58,877
मामले (हिमाचल)
57,386
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,152,127
मामले (भारत)
115,499,176
मामले (दुनिया)

अब मोबाइल फोन से पता लगाएं खरीदी गई दवाई असली या नहीं, जानें कैसे

अब मोबाइल फोन से पता लगाएं खरीदी गई दवाई असली या नहीं, जानें कैसे

- Advertisement -

नई दिल्ली। अब दवाइयों (medicines) की असलियत का पता लगाना बेहद आसान होगा। अब आप अपने मोबाइल फोन (Mobile Phone) से पता लगा पाएंगे कि आपकी खरीदी हुई दवाई असली है या नहीं। दरअसल, फार्मास्यूटिकल विभाग (Pharmaceutical department) ने सभी दवाओं पर QR कोड लगाने के निर्देश जारी किए है।

यह भी पढ़ें- साल भर फ्री मिलेगी Amazon Prime की मेंबरशिप, बस कर लें यह काम

यह सरकारी अस्पतालों (Governmenmt Hospitals), जन औषिधि स्टोर पर सप्लाई की जाने वाली दवाइयों पर 1 अप्रैल 2019 से QR कोड अनिवार्य होगा जबकि बाजार में बिकने वाले दवाइयों के लिए QR कोड 1 अप्रैल 2020 से लागू होगा। QR कोड में दवा की पूरी जानकारी छिपी होगी। इससे बैंच नंबर, सॉल्ट, कीमत की जानकारी मिलेगी। मोबाइल से QR कोड स्केन करने पर दवा की पूरी जानकारी मिलेगी। भारत (India) नकली दवाओं का दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा बाजार है। भारत में 25 फीसदी के करीब दवाइयां नकली है। देश में 10 में से 1 दवा नकली है।

 

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है