×

second capital सीएम की घोषणा के बाद जुबानी जंग तेज

second capital सीएम की घोषणा के बाद जुबानी जंग तेज

- Advertisement -

धर्मशाला/हमीरपुर। सीएम वीरभद्र सिंह के धर्मशाला को दूसरी राजधानी का दर्जा देने की घोषणा के बाद आरोपों-प्रत्यारोपों का दौर शुरू हो गया है। धर्मशाला को दूसरी राजधानी बनाए जाने के पक्षधर इसे एक ऐतिहासिक फैसला करार दे रहे हैं। साथ ही चेतावनी दे रहे हैं कि कांगड़ा जिला की जनता की भावनाओं से खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं होगा। वहीं, दूसरी तरफ विरोधी इसे मात्र चुनावी स्टंट करार दे रहे हैं। धर्मशाला को दूसरी राजधानी बनाए जाने को लेकर धर्मशाला नगर निगम के उप महापौर एवं वरिष्ठ कांग्रेसी नेता देवेंद्र जग्गी  ने कहा कि कांगड़ा जिला की जनता उनकी भावनाओं से खिलवाड़ को बर्दाश्त नहीं करेगी और धर्मशाला के राजधानी के दर्जा का जो लोग मजाक उड़ा रहे हैं, उन्हें इसके राजनीतिक परिणाम भुगतने होंगे।


  • राजधानी के दर्जे का मजाक उड़ाने वालों को भुगतने होंगे परिणामः जग्गी
  • बड़ी रैली कर जनहितैषी निर्णय के लिए सीएम का होगा अभिनंदनः मनकोटिया
  • सीएम घोषणाओं के शगूफे छोड़ने के बजाय पार्टी की करें चिंताः विकास   

आज यहां जारी प्रेस वक्तव्य में उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी ने हमेशा कांगड़ा के हितों की अनदेखी की है और जिला को लेकर नकारात्मक राजनीति करके जिला के विकास की राह में अवरोध पैदा करती रही है। देवेन्द्र जग्गी ने कहा कि धर्मशाला में स्कूल शिक्षा बोर्ड का कार्यालय, सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग और लोक निर्माण विभाग के मुख्य अभियंता के कार्यालयों की स्थापना के अतिरिक्त धर्मशाला के तपोवन में विधानसभा परिसर की स्थापना की गई है। वहीं, शहरी कांग्रेस धर्मशाला की महासचिव शकुन मनकोटिया ने धर्मशाला को राजधानी बनाने के जनप्रिय निर्णय के विरोध को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए विरोधियों को इस प्रकार की सस्ती राजनीति से गुरेज करने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही जिला में एक बड़ी आभार रैली आयोजित कर इस जनहितैषी निर्णय के लिए सीएम का अभिनंदन किया जाएगा।

उधर, हमीरपुर से बीजेपी युवा मोर्चा के मीडिया प्रभारी विकास शर्मा ने मंगलवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति में कांग्रेस सरकार द्वारा धर्मशाला को दूसरी राजधानी बनाने पर कांग्रेस को आडे हाथों लेते हुए कहा पिछले विधानसभा चुनावों से ठीक पहले सीएम वीरभद्र सिंह व कांग्रेस ही प्रदेश के लाखों युवाओं को बेरोजगारी भत्ता देने के नाम ठगा, ठीक वैसे ही अब राजधानी के नाम पर जनता इनकी करनी व कथनी सब जानती है। विकास शर्मा ने कहा प्रदेश सरकार पहले बेरोजगारों से पहले किए वादे को पूरा करें, तभी अन्य खोखली घोषणा करें। उन्होंने कहा कि सीएम को घोषणाओं के शगूफे छोड़ने के बजाय कांग्रेस पार्टी की चिंता करनी चाहिए। 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है