Covid-19 Update

2,00,085
मामले (हिमाचल)
1,93,830
मरीज ठीक हुए
3,418
मौत
29,823,546
मामले (भारत)
178,657,875
मामले (दुनिया)
×

हिमाचल के लिए जारी हों रूसा के तहत बकाया 114 करोड़

हिमाचल के लिए जारी हों रूसा के तहत बकाया 114 करोड़

- Advertisement -

शिमला। मुख्य सचिव बीके अग्रवाल (Chief Secretary BK Agrawal) ने भारत सरकार के उच्च शिक्षा सचिव आर सुब्रह्मण्यम से बुधवार को नई दिल्ली (New Delhi) में भेंट की। इस दौरान उन्होंने रूसा (Rusa) से संबंधित विभिन्न लंबित मुद्दों पर चर्चा कर विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत शीघ्र धनराशि जारी करने का आग्रह किया। मुख्य सचिव ने रूसा 2.0 के अंतर्गत 75 करोड़ रुपए की बकाया राशि को शीघ्र जारी करने का आग्रह किया और सूचित किया कि कुल 88 करोड़ रुपए की राशि में से केवल 13 करोड़ रुपए अभी तक जारी किए गए हैं। उन्होंने रूसा 1.0 के तहत 39 करोड़ रुपए की बकाया राशि को जारी करने की भी मांग की, जिसका उपयोगिता प्रमाणपत्र पहले ही जमा किया जा चुका है।

यह भी पढ़ें: जवाली : पिस्तौल और चाकू की नोक पर पेट्रोल पंप से लूटे 50 हजार

 


उन्होंने कहा कि डीएवी कोटखाई (DAV Kotkhai) को नए मॉडल कॉलेज में स्तरोन्नत करने के लिए चार करोड़ रुपए की डीपीआर (DPR) मानव संसाधन विकास मंत्रालय को प्रस्तुत की जा चुकी है। उन्होंने इसके लिए पहली किस्त (first installment) शीघ्र जारी करने का आग्रह किया।

यह भी पढ़ें: ऊना : मोदी का मुरीद मिठाई वाला, मुखौटे पहनवाकर बनवा रहा स्पेशल लड्डू

उन्होंने कहा कि रूसा के प्रभावी कार्यान्वयन के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं और दिशा-निर्देशों के अनुसार कुछ सुधार किए गए हैं। उन्होंने कहा कि अधिकांश जारी की गई धनराशि का उपयोग किया जा चुका है, जिससे रूसा 1.0 के अंतर्गत अब तक 66 उच्च शिक्षण संस्थान लाभान्वित हुए हैं। भारत सरकार के सचिव ने मुख्य सचिव को लंबित मुद्दों पर उचित कार्रवाई करने का आश्वासन दिया।

शिलारू को अंतरराष्ट्रीय स्तर के खेल केंद्र में विकसित करने पर बल

मुख्य सचिव बीके अग्रवाल ने बुधवार को नई दिल्ली में भारत सरकार के खेल सचिव आरएस जुलानिया (Sports secretary RS julania) से मुलाकात कर उनसे शिलारू प्रशिक्षण केंद्र (Shillaru Training Center) को अंतरराष्ट्रीय स्तर के केंद्र में विकसित करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि यह केन्द्र भारतीय खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय स्तर की खेल प्रतिस्पर्धाओं के लिए अत्यन्त उपयोगी सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि देश में इतनी ऊंचाई पर कोई भी ऐसा केन्द्र नहीं है, अगर यदि इस केन्द्र में इस प्रकार की विश्व स्तरीय सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएं, तो अन्य विदेशी खिलाड़ी (Foreign player) भी यहां प्रशिक्षण लेना पसंद करेंगे।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है