Covid-19 Update

1,98,313
मामले (हिमाचल)
1,89,522
मरीज ठीक हुए
3,368
मौत
29,419,405
मामले (भारत)
176,212,172
मामले (दुनिया)
×

चाइल्ड लाइन ने दी दबिशः कहीं सर्व कर रहे शराब तो कहीं धो रहे बर्तन

चाइल्ड लाइन ने दी दबिशः कहीं सर्व कर रहे शराब तो कहीं धो रहे बर्तन

- Advertisement -

नाहन। चाइल्ड लाइन सिरमौर ने शहर में नाइट आउटरीच की शुरूआत की। इस दौरान गुन्नूघाट बाजार से दिल्ली गेट, बड़ा चौक तक मिठाई की दुकानों और ढाबों के साथ साथ अहातों में दबिश दी। छापेमारी के दौरान चाइल्ड लाइन की टीम ने एक दर्जन किशोरों को श्रम करते पाया। हालांकि, इस दौरान बाल श्रम का कोई मामला देखने में नहीं आया लेकिन, किशोर श्रम (निषेध एवं विनियमन) अधिनियम 1986 का उल्लंघन जरूर देखा गया।

किशोरों की शिक्षा का भी कोई प्रावधान नहीं

चाइल्ड लाइन सिरमौर की काउंसलर विनीता ठाकुर, समन्वयक सुमित्रा शर्मा व टीम सदस्य राजेंद्र व सुंदर सिंह ने पुलिस हैड कांस्टेबल को साथ लेकर शहर में दुकानों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान टीम को 14 साल से कम बच्चे दुकानों पर काम करते नहीं पाए गए लेकिन, 14-18 साल के किशोरों को दुकानों में श्रम करते हुए देखा गया। कोई बर्तन साफ करते हुए पाया गया तो कई दुकान का अन्य कार्य करते हुए। जबकि, एक किशोर को अहाते (जहां बीयर व शराब परोसी जाती है) में श्रम करते हुए पाया, जो कोटपा का भी उल्लंघन हैं।


पूछताछ में सामने आया कि स्वीट शॉप, ढाबों व अहातों में काम कर रहे किशोरों की शिक्षा का भी कोई प्रावधान नहीं किया गया है और न ही उन्हें अपने वेतन का पता है। इस दौरान यह भी खुलासा हुआ कि श्रम कर रहे बच्चों को उनका वेतन नहीं दिया जाता बल्कि ठेकेदार को ही दुकानदार वेतन देते हैं। उधर, चाइल्ड लाइन की काउंसलर विनीता ठाकुर ने बताया कि कई दुकानदार किशोर श्रम का उल्लंघन कर रहे हैं। पांच घंटे की बजाय किशोरों से 8 से 10 घंटे काम लिया जा रहा है। जबकि, किशोरों को उनके वेतन का भी कोई पता नहीं है। इस मामले में श्रम विभाग को पत्र लिखा जा रहा है। ताकि, आगामी कार्रवाई की जा सके।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है