Covid-19 Update

2,05,017
मामले (हिमाचल)
2,00,571
मरीज ठीक हुए
3,497
मौत
31,341,507
मामले (भारत)
194,260,305
मामले (दुनिया)
×

मदद को गुहार : Solan के ओम को फरिश्ते का इंतजार

मदद को गुहार : Solan के ओम को फरिश्ते का इंतजार

- Advertisement -

child need help: 9 साल के बच्चे के दिल में छेद

child need help: दयाराम कश्यप/सोलन। अगर आपकी नजर-ए-इनायत हो जाए तो एक नन्हीं सी जान के चेहरे पर फिर से हंसी की फुहारें आ जाएंगी। जी हां, बात हो रही है सोलन की पंचायत सपरून के गांव पड़गल की। यहां रहने वाले ओम के दिल में छेद है।गरीब परिवार ने पहले अपने स्तर पर बेटे को तंदरुस्त करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी, लेकिन आर्थिक हालात और गरीबों ने उनके हाथ खड़े कर दिए हैं। अब इस परिवार को आस है तो किसी ऐसे फरिश्ते की, जो इनके बेटे के लबों की खुशी को वापस ला सकें। 

सोलन के गरीब परिवार ने मदद को लगाई गुहार

बहरहाल, गरीब परिवार से संबंध रखने वाले 9 साल के ओम कुमार के दिल में छेद है, जिसका उपचार पीजीआई चंडीगढ़ में जारी है। दिल में छेद व इंफेक्शन के चलते जल्द इस बच्चे का ऑपरेशन होना है। पीजीआई के चिकित्सकों ने अभिभावकों को डेढ़ लाख से अधिक का खर्च बताया है। मेहनत मजदूरी करने वाले परिवार से संबंध रखने वाले इस बीमार बच्चे के पिता मानसिक रूप से अस्वस्थ है और माता एक गृहिणी है। अभी तक उसके अभिभावकों ने इसके इलाज पर कर्ज लेकर करीब 2 लाख रुपए से भी अधिक खर्च कर दिए हैं। ऐसे में अब नन्हे बच्चे के परिजन आगामी इलाज करवाने में असमर्थ है।


इलाज के लिए चाहिए दो लाख रुपए

सोलन के साथ लगती ग्राम पंचायत सपरून के गांव पड़गल में अपने माता-पिता के साथ ओम कुमार रहता है। जिसकी देखभाल व स्कूल आने -जने के लिए उसकी माता नित नियम से आती है। घर से दुर्गम रास्ता पैदल तय कर ये बीमार बच्चा कक्षा 3 की शिक्षा ग्रहण करने के लिए पाठशाला सपरून तक पहुंचता है। बच्चे की माता अंजु ने बताया कि जब वह पैदा हुआ तब से ही बीमार रहता था। इसका इलाज पहले सोलन क्षेत्रीय अस्पताल में करवाया, लेकिन वहां से इसको शिमला रैफर कर दिया गया। करीब 2 वर्ष तक शिमला से इलाज करवाने के बाद पीजीआई चंडीगढ़ भेज दिया गया। अंजु ने बताया कि अब तक लगभग 2 लाख रुपए तक का खर्च इलाज में आ चुका है। अब दिल के ऑपरेशन के लिए चिकित्सकों ने डेढ़ से दो लाख तक का खर्च बताया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है