Expand

जिबूती में चीनी सैनिकों की मौजूदगी, भारत की Tension बढ़ी

जिबूती में चीनी सैनिकों की मौजूदगी, भारत की Tension बढ़ी

China : बीजिंग। भारत-चीन में हालिया तनाव के बीच ड्रैगन ने अपने आक्रामक इरादों के तहत पूर्वी अफ्रीकी देश जिबूती में अपना पहला विदेशी सैन्य ठिकाना बना लिया है। चीनी नौसैनिक युद्धपोत तेजी से आधुनिक सैन्य-साजोसामान जिबूती स्थित नए सैन्य अड्डे पर लेकर जा रहे हैं। मंगलवार देर रात को चीन के दक्षिणी ग्वांगदांग प्रांत के शहर झांजियांग से चीनी सेना की पहली खेप जिबूती के लिए रवाना भी हो गई। हिंद महासागर के किनारे पर स्थित जिबूती में इस सैन्य अड्डे से चीन की सैन्य मारक क्षमता में काफी इजाफा हो जाएगा।

China : इस इलाके से बड़ी संख्या में गुजरते हैं भारत के व्यापारिक जहाज

दरअसल यह वह इलाका है जहां से होकर भारत के व्यापारिक जहाज बड़ी संख्या में गुजरते हैं। चीन ने पिछले साल जिबूती में रसद पहुंचाने का अड्डा विकसित करने का कार्य शुरू किया था। यहां से उसकी यमन और सोमालिया में मानवीय सहायता उपलब्ध कराने और आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की योजना है। चीन पहले ही हिंद महासागर और अदन की खाड़ी में भारत से चार गुना ज्यादा युद्धपोत तैनात कर चुका है। दोनों देशों के बीच चल रही तनातनी को देखते हुए चीन की ये हरकत भारत के लिए चिंताजनक मानी जा रही है। हालांकि, चीन का कहना है कि वह अपने मिलिट्री बेस के जरिए अफ्रीका और दक्षिण एशिया में शांति और मानवता कायम करने में मदद करेगा।चीनी समाचार एजेंसी शिन्हुआ के अनुसार इससे सैन्य सहयोग, नौसैनिक अभ्यास और बचाव मिशन के कार्य भी किए जाएंगे।

यह भी पढ़ें : Kashmir के बडगाम में सुरक्षाबलों ने मार गिराए 3 हिजबुल Terrorist

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Advertisement
Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Advertisement

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है