×

China ने अपने घर में बनाया Aircraft Carrier, हिंद महासागर में खतरा बढ़ा 

China ने अपने घर में बनाया Aircraft Carrier, हिंद महासागर में खतरा बढ़ा 

- Advertisement -

बीजिंग। भारत समेत हिंद महासागर के तटीय देशों के लिए यह बिल्कुल अच्छी खबर नहीं हो सकती। चीन ने स्वदेशी तकनीक से Aircraft Carrier बना लिया है। रविवार को इसका ट्रायल भी शुरू हो गया। अब चीन के पास तीन एयरक्राफ्ट कैरियर हो गए हैं। पिछले साल अप्रैल में चीन ने दूसरा Aircraft Carrier लांच किया था। उसने रूस से लायोनिंग नाम का एक पुराना एयरक्राफ्ट कैरियर पहले ही ले रखा है।
China Aircraft Carrier हालांकि लायोनिंग Aircraft Carrier को केवल रिसर्च के काम ही आता है। साल 2030 तक उसने अपने पास चार एयरक्राफ्ट कैरियर रखने की योजना बनाई है। रविवार को ट्रायल के लिए भेजे गए Aircraft Carrier का अभी नाम नहीं रखा गया है, लेकिन बताया जाता है कि यह 50000 टन का है और इसे हिंद महासागर में तैनात किया जाएगा। इस पर चीन अपने अत्याधुनिक जे-15 लड़ाकू विमानों को भी तैनात करने वाला है।
China Aircraft Carrier रक्षा सूत्रों ने बताया कि चीन अपने यहां न्यूक्लियर पावर से चलने वाला एयरक्राफ्ट कैरियर भी बना रहा है। चीन के लिए इस समय दक्षिणी चीन सागर और हिंद महासागर सबसे बड़ी चुनौती हैं, जहां भारत और अमेरिका के Aircraft Carrier मौजूद हैं। साऊथ चाइना सी में चीन ने अपने लिए सामरिक महत्व के टापू बनाए हैं, जिसके चलते वहां तनातनी की स्थिति है। ऐसे में अगर चीन का Aircraft Carrier हिंद महासागर में घुसता है तो उससे क्षेत्रीय शक्ति संतुलन को गंभीर खतरा पैदा हो सकता है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है