- Advertisement -

दुर्गापूजा के बहाने दोस्ती का हाथ बढ़ा रहा है ड्रैगन, बंगाल में करेगा स्पांसरशिप

China will sponsor durga puja in bengal to strengthen cultural and commercial ties

0

- Advertisement -

कोलकाता। बंगाल की मशहूर दुर्गा पूजा इस बार चीन के नाम होगी। चीन का यह कदम बंगाल से सांस्कृतिक और व्यापारिक रिश्तों को मजबूत करने के मकसद से उठा है। इसी के तहत चीन यहां के बीजे ब्लॉक की दुर्गा पूजा को स्पांसर करने जा रहा है। चीन का वाणिज्य दूतावास पिछले कुछ साल से कोलकाता पुलिस के साथ मिलकर दुर्गा पूजाओं में इनामों की घोषणा करता रहा है।

इस बार उसने एक कदम और बढ़ाया है। बीजे ब्लॉक पूजा के सेक्रटरी उमाशंकर घोष दास्तिदार ने कहा, ‘हमें उम्मीद है कि सबकुछ अच्छा है। आने वाले हफ्तों में हम दूतावास के साथ प्लानिंग के लिए कुछ मीटिंग करेंगे और आगे की योजना तैयार करेंगे। हमें उम्मीद है कि इस बार पिछली बार के बजट (40 लाख रुपये) से ज्यादा खर्च भी आएगा।’

ट्रेनिंग के लिए कलाकार जाएंगे चीन

इस साल बीजे ब्लॉक की पूजा के लिए फंडिंग के साथ-साथ चीनी दूतावास यहां से कुछ कलाकारों को चीनी आर्किटेक्चर के डिजाइन सीखने के लिए चीन भी भेजेगा। इससे चीन की कोशिश है कि इस बार के पंडाल और पूजा में चाइनीज कला का भी समावेश हो और ये पंडाल पगोडा की तरह दिखें। चीन के कुनमिंग में इस स्थानीय कलाकारों ने इस तरह की कला के शानदार नमूने पेश किए हैं। इस कदम से चीन को दुर्गापूजा के दौरान चाइनीज बांसुरी, ड्रैगन डांस और एक्रोबेटिक्स कला की नुमाइश करने का मौका मिलेगा।

इसके लिए चीन से विशेष कलाकार बुलाए जाएंगे। दूतावास के जनरल मा झानवू ने कहा, ‘कोलकाता की दुर्गा पूजा एक शानदार अनुभव है और यह सब को एकसाथ लाने का द्वार है। हम अपने दूतावास में भी कई धार्मिक आयोजन करते रहते हैं। इस बार हम साल्ट लेक में चाइना उतार देंगे। हमने पिछले साल भी कुछ इनाम बांटे और कुछ लोगों को ट्रेनिंग के लिए चीन भी भेजा था।’

- Advertisement -

Leave A Reply