Covid-19 Update

2,17,403
मामले (हिमाचल)
2,12,033
मरीज ठीक हुए
3,639
मौत
33,529,986
मामले (भारत)
230,045,673
मामले (दुनिया)

ड्रेगन ने पीछे खींचे अपने पैर, पूर्वी लद्दाख में कम हुआ तनाव

विवादित गोगरा क्षेत्र से चीनी सेना पीछे हटी

ड्रेगन ने पीछे खींचे अपने पैर, पूर्वी लद्दाख में कम हुआ तनाव

- Advertisement -

नई दिल्ली। ड्रैगन की अकड़ ढीली पड़ती दिखाई पड़ रही है। उसने पूर्वी लद्दाख के विवादित गोगरा क्षेत्र से अपने सैनिकों को वापस बुला लिया है। वहीं, लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर तनाव कम करने के लिए भारतीय सेना (Indian Army) भी पीछे हट गई है। दोनों देशों ने यह कार्रवाई 31 जुलाई को चुशुल मोल्डो में हुई 12 वें दौर की कोर कमांडर स्तरीय वार्ता के बाद की है। बता दें कि पूर्वी लद्दाख (East ladakh) में गलवान और पैंगोंग त्सो झील इलाकों से सैनिकों को वापस बुलाए जाने के बाद यह तीसरी सैन्य वापसी है।

दूसरे इलाकों से भी पीछे हटने को तैयार चीन

मिली जानकारी के मुताबिक चीनी सेना यानी पीएलए (PLA) ने अन्य इलाकों से पीछे हटने को लेकर अपनी प्रतिबद्धता जतायी है। सेना की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि दोनों पक्षों के बीच हुए समझौते के तहत इस इलाके की सख्त निगरानी की जाएगी। वहीं, सेना ने अपने बयान में कहा कि वह देश की इक इंच जमीन भी दुश्मन को हथियाने नहीं देगी। वह भारत की संप्रभुता को बनाए रखने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है।

बनाए गए सभी बुनियादी ढांचे को नष्ट करेगा पीएलए

बता दें कि इस समझौते से सुनिश्चित होगा कि दोनों क्षेत्र में एलएसी का पालन और सम्मान करेंगे। साथ ही यथास्थिति में किसी तरह का कोई एकतरफा परिवर्तन नहीं होगा।भारतीय सेना ने कहा कि गोगरा में दोनों पक्षों की ओर से बनाए गए सभी अस्थायी ढांचों और अन्य संबद्ध बुनियादी ढांचों को ध्वस्त कर दिया गया है। दोनों पक्षों की ओर से इसकी पुष्टि भी कर ली गई है। एक और टकराव समाप्त होने के साथ दोनों पक्षों ने वार्ता को आगे बढ़ाने और पश्चिमी क्षेत्र में एलएसी के साथ बाकी मुद्दों को हल करने की प्रतिबद्धता व्यक्त की है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है