Expand

श्रद्धालुओं को लेकर मणिमहेश उड़ा चौपर

श्रद्धालुओं को लेकर मणिमहेश उड़ा चौपर

- Advertisement -

भरमौर। मणिमहेश यात्रा के लिए आज से हेली टैक्सी शुरू हो गई। मंगलार सुबह से ही चौपर श्रद्धालुओं को लाने और ले जाने में जुट गया है। बताया जा रहा है कि सुबह 10 बजे तक करीब 10 उड़ानें चौपर ने भरमौर से मणिमहेश झील के लिए भरी थी, जिसमें करीब 150 लोगों का आना जाना हुआ है। यूटेयर हेली टैक्सी सेवा के सीनियर एक्जीक्यूटिव राकेश शर्मा ने बताया कि मंगलवार सुबह से नियमित उड़ानें हो रही हैं। अब सब कुछ मौसम पर ही निर्भर करेगा। उन्होंने कहा कि अगर मौसम ने साथ दिया तो आज शाम तक करीब 60 उड़ानें करवाई जाएंगी। गौरतलब है कि भद्रवाही श्रद्धालुओं के भरमौर स्थित हेलीपैड पर डेरा जमाने के कारण दो दिन से को हेली टैक्सी सेवा ठप थी। श्रद्धालुओं के ठहराव के कारण सोमवार को कोई भी उड़ान नहीं हो पाई, इस कारण हेली टैक्सी सेवा की बुकिंग करवाए बैठे श्रद्धालुओं को काफी समस्या का सामना करना पड़ा। पहले से ही खराब मौसम के कारण हेली टैक्सी सेवा प्रभावित हुई है। कई श्रद्धालु अपनी बुकिंग रद करवाकर या तो घर वापस लौट गए थे या मणिमहेश के लिए रवाना हो गए थे। अब ऐसे में पहले से ही बुकिंग करवाए बैठे श्रद्धालुओं को दो दिन का अतिरिक्त इंतजार करना पड़ा।

badra1क्या था मामला…
श्रद्धालुओं का हेलीपैड में ठहराव प्रतिबंधित था, लेकिन रविवार को भद्रवाह से भरमौर पहुंचे श्रद्धालुओं ने हेलीपैड में ही ठहरने का फैसला लिया। हालांकि, प्रशासन की ओर से उन्हें इस बारे में मना भी किया गया। लेकिन वे अपनी जिद पर अड़े रहे, जिस कारण भरमौर प्रशासन को अपना फैसला बदलना पड़ा था।  भरमौर हेलीपैड पर भद्रवाह के श्रद्धालुओं की ओर से कब्जा करने के मामले में पुलिस व स्थानीय प्रशासन आमने-सामने आ गए थे। प्रशासन के अनुसार पुलिस ने आदेश नहीं माना, उनकी ढीली कार्यप्रणाली के कारण ही हेलीपैड पर श्रद्धालुओं ने कब्जा कर लिया और हेली टैक्सी उड़ानें नहीं हो पाई। इस संबंध में एसडीएम ने भरमौर थाना प्रभारी से भी स्पष्टीकरण मांगा।  बताया जा रहा है कि गत दिवस उड़ानें न होने से हेली टैक्सी कंपनी को 60 लाख व मणिमहेश ट्रस्ट को तीन लाख रुपये का नुकसान हुआ है। हैरत की बात यह है कि एसडीएम भरमौर जितेंद्र कंवर की ओर से 26 अगस्त को भद्रवाह के श्रद्धालुओं को ठहरने के लिए कॉलेज भवन में अनुमति दी थी। लेकिन इसके बावजूद श्रद्धालुओं को  हेलीपैड पर ठहरने से नहीं रोका गया और न ही इस मामले की कोई सूचना उपमंडल प्रशासन को दी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है