Covid-19 Update

2,05,017
मामले (हिमाचल)
2,00,571
मरीज ठीक हुए
3,497
मौत
31,341,507
मामले (भारत)
194,260,305
मामले (दुनिया)
×

BJP को झटकाः नप अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के खिलाफ No Confidence Motion

BJP को झटकाः नप अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के खिलाफ No Confidence Motion

- Advertisement -

No Confidence Motion : जोगिंद्रनगर। स्थानीय नगर परिषद के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव मंडी के अतिरिक्त उपायुक्त के पास पहुंच गया है और अब इस पर आगामी प्रक्रिया का बेसब्री से इंतजार किया जा रहा है, जिस दिन इस प्रस्ताव पर चर्चा या मतदान होगा। अध्यक्ष निर्मला देवी व उपाध्यक्ष संतोष कुमारी दोनों ही बीजेपी समर्थित हैं और 7 सदस्यीय नगर परिषद में 4-3 के मतांतर से यह दोनों पदासीन हुए थे। अविश्वास प्रस्ताव पर हस्ताक्षर करने वालों में 3 पार्षद तो कांग्रेस के हैं ही, चौथे हस्ताक्षर बीजेपी समर्थित रहे वरिष्ठ पार्षद के हुए बताए गए हैं। ओमप्रकाश बक्शी, अजय धरवाल, ममता कपूर व निर्मला देवी 4 पार्षदों के हस्ताक्षरों वाला यह अविश्वास प्रस्ताव सोमवार की शाम मंडी के अतिरिक्त उपायुक्त हरिकेश मीणा को सौंपा गया, जिसमें आरोप लगाया गया है कि नगर परिषद के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष करीब एक साल के कार्यकाल में विकास कार्य करवाने में सफल नहीं हो पाए हैं।

प्रस्ताव पर हस्ताक्षर करने वाले 3 पार्षद कांग्रेस, एक बीजेपी समर्थित

इसलिए यह अविश्वास प्रस्ताव लाया जाता है। सीधे तौर पर देखा जाए तो यह मामला सियासी शतरंज से जुड़ा हुआ लगता है और यह झटका सीधे तौर पर जहां बीजेपी को लग सकता है, वहीं परोक्ष तौर पर न केवल विधायक गुलाब सिंह को लग सकता है, बल्कि सांसद रामस्वरूप को भी लग सकता है। अविश्वास प्रस्ताव पारित होने पर गुलाब सिंह ठाकुर समर्थित अध्यक्ष निर्मला देवी व सांसद रामस्वरूप समर्थित उपाध्यक्ष संतोष कुमारी को अपने पदों से हटना पड़ सकता है। निर्मला देवी वार्ड 5 व संतोष कुमारी वार्ड 2 की पार्षद हैं। वैसे बीजेपी की अंदरूनी कलह को भी इस अविश्वास प्रस्ताव से जोड़कर देखा जा रहा है। अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के बाद नए अध्यक्ष पद पर वार्ड नंबर 7 की पार्षद निर्मला देवी अध्यक्ष बननी निश्चित हैं, क्योंकि अध्यक्ष का पद दलित महिला के लिए आरक्षित है। यह भी संजोग ही है कि अगर एक निर्मला अध्यक्ष पद से हटती हैं तो दूसरी भी निर्मला देवी ही अध्यक्ष बनेंगी।


कयास लगाए जा रहे हैं कि उपाध्यक्ष पद पर बीजेपी समर्थित पार्षद ओमप्रकाश बक्शी को बिठाया जा सकता है, जबकि कोई भी समीकरण आखिरी दौर तक बन सकते हैं। शिमला के रिज पर पीएम नरेंद्र मोदी की रैली से पहले यह सियासी ड्रामा जोगिंद्रनगर बीजेपी की सेहत के लिए किसी भी लिहाज से मुफीद नहीं माना जा रहा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है