Covid-19 Update

2,00,791
मामले (हिमाचल)
1,95,055
मरीज ठीक हुए
3,437
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

रडार से बचा सकते हैं बादल, वायु सेना अधिकारी के अनुसार सही थे मोदी

रडार से बचा सकते हैं बादल, वायु सेना अधिकारी के अनुसार सही थे मोदी

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारतीय वायु सेना (Indian Air Force) के एक शीर्ष अधिकारी ने पीएम नरेंद्र मोदी का बचाव करते हुए कहा कि बारिश का दिन बालाकोट (Balakot) हमलों के लिए एक बेहतर पिक था। उन्होंने बताया कि बादल का ना होना, ऑपरेशन के दौरान पाकिस्तानी राडार (Pakistani Radar) को फाइटर जेट्स का पता लगाने में मदद कर सकता था। मोदी ने यह टिप्पणी हाल ही में एक टीवी साक्षात्कार (TV Interview) में की थी जिसको सोशल मीडिया पर बहुत ट्रोल किया गया था। विपक्ष ने भी इसका जमकर मज़ाक उड़ाया था।

यह भी पढ़ें :-मनी लॉन्ड्र‍िंग केस: रॉबर्ट वाड्रा जमानत रद्द करने की याचिका पर कोर्ट ने मांगा जवाब

कमांडिंग-इन-चीफ, पश्चिमी वायु कमान, रघुनाथ नांबियार (Raghunath Nambiyar) ने कहा, ‘यह बहुत हद तक सच है कि और बादलों में बहुत मजबूत संवेदी स्थितियां (convective conditions) रडार को सटीक रूप से काम करने से रोकती हैं।’ अधिकारी से केरल में सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देने के लिए कहा गया था,जिन्होंने इस संबंध में पीएम की टिप्पणियों का बचाव किया था। रावत ने कथित तौर पर कहा था, ‘विभिन्न तकनीकों के साथ विभिन्न प्रकार के रडार काम कर रहे हैं। कुछ में देखने की क्षमता है, कुछ में देखने की क्षमता नहीं है। कुछ प्रकार के रडार बादलों के माध्यम से नहीं देख सकते हैं।’ बता दें कि बारह मिराज 2000 (Mirage 2000) ने फरवरी को पाकिस्तान को पार कर लिया था और खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के बालाकोट के एक आतंकवादी प्रशिक्षण शिविर सहित पाकिस्तान के कई अन्य आतंकवादी ठिकानों को तबाह कर दिया था।



हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है