×

Anurag का CM पर तंजः घोषणाएं करना, फिर पीछे हटना CMकी Habit

Anurag का CM पर तंजः घोषणाएं करना, फिर पीछे हटना CMकी Habit

- Advertisement -

शिमला। घोषणाएं करना और  फिर पीछे हटना यह अब सीएम की आदत हो चुकी है।  सीएम ने घोषणा की कि धर्मशाला प्रदेश की दूसरी राजधानी होगी, लेकिन कुछ ही दिन बाद कहा कि वहां कोई कार्यालय नहीं होंगे और जैसे केवल विधानसभा का  शीतकालीन सत्र चलता है, वैसे चलता रहेगा। फिर उन्होंने कहा कि उनके पुत्र उनके विधानसभा क्षेत्र से अगला चुनाव लड़ेंगे और फिर बाद में यह कह कर पलट गए कि मैंने तो मजाक किया था।


  • सलाह, नई घोषणाएं करना बंद करें और जो की हैं उन्हें पूरा करने पर ध्यान दें
  •  बोले़ एनएच की डीपीआर बनाने के मामले में भी सीएम का बयान चौकानेवाला

अब यही बात वो एनएच के साथ भी कर रहे हैं। सीएम के लिए अब बेहतर यही होगा कि वे नई घोषणाएं करना बंद करें और जो घोषणाएं वे कर चुके हैं, उन्हें पूरा करने पर अपना ध्यान लगाएं।

यह बात सांसद अनुराग ठाकुर ने यहां जारी एक प्रेस बयान में कही। उन्होंने कहा कि केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने जून 2016 में हिमाचल प्रदेश के लिए नए 60 एनएच घोषित किए थे,  जिसकी अधिसूचना सितम्बर 2016 में केंद्र सरकार ने जारी की, लेकिन राज्य सरकार नए राष्ट्रीय राजमार्गों डीपीआर बनाने का काम अभी तक क्यों शुरू नहीं कर पाई? उन्होंने कहा कि सीएम वीरभद्र सिंह को इसका जवाब देना चाहिए। अनुराग ठाकुर ने कहा कि सीएम एक दिन एक बोलते हैं और अगले दिन उसका ठीक उलट। उन्होंने कुछ दिन पहले कहा कि डीपीआर बनने का काम अभी इसलिए शुरू नहीं हुआ, क्योकि केंद्र सरकार से अभी नए एनएच की अधिसूचना नहीं मिली है, लेकिन सच्चाई तो ये है कि यह अधिसूचना सितम्बर 2016 में ही जारी हो चुकी है और इसकी सूचना केंद्र द्वारा हिमाचल के लोक निर्माण विभाग के सचिव को दे दी गई थी और लोक निर्माण विभाग खुद सीएम के पास है। ऐसे में उनका यह बयान आना वाकई चौकानेवाला है और तो और डीपीआर बनाने की लिए 229 करोड़ की राशि भी स्वीकृत की जा चुकी है। अनुराग ठाकुर ने आगे कहा कि जिस रैली में नितिन गडकरी ने यह घोषणा की थी कि उसमें स्वयं सीएम मौजूद थे और उन्होंने मंत्री की तारीफ की थी की वे जो कहते हैं वो करते हैं, लेकिन जब अब राज्य सरकार ने केवल अपने हिस्से की डीपीआर बनानी है, जिसका पैसा भी केंद्र से आ गया है, यह काम भी सीएम का विभाग नहीं कर पा रहा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है