×

रात के #Curfew का लॉजिक समझाया #cmJairam ने, हिम सुरक्षा अभियान की हुई शुरुआत

स्वास्थ्य कार्यकर्ता कोविड-19, तपेदिक, कुष्ठ रोग, मधुमेह आदि रोगों की जानकारी करेंगे एकत्र

रात के #Curfew का लॉजिक समझाया #cmJairam ने, हिम सुरक्षा अभियान की हुई शुरुआत

- Advertisement -

शिमला। कोरोना संक्रमितों की लगातार बढ़ रही संख्या को देखते हुए हिमाचल सरकार ने रोगियों की पहचान करने के मकसद से हिम सुरक्षा अभियान की शुरुआत की है। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने मंगलवार को शिमला के रिज से इस अभियान का शुभारंभ किया। अभियान प्रदेश भर में 25 नवंबर से 27 दिसंबर 2020 तक आयुर्वेद, महिला एवं बाल विकास, पंचायती राज विभाग, जिला प्रशासन और विभिन्न गैर.सरकारी संगठनों के सहयोग से चलाया जाएगा। इस अभियान के तहत स्वास्थ्य कार्यकर्ता कोविड-19, तपेदिक, कुष्ठ रोग, मधुमेह और उच्च रक्तचाप आदि रोगों के लिए सभी लक्षणों की घर-घर जाकर जानकारी एकत्र करेंगे।


यह भी पढ़ें: #Corona रोकथाम को हिम सुरक्षा योजना, बनाई आठ हजार टीमें; घर-घर जाकर करेंगी Test

 

 

सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि कोरोना (Corona) का संकट थमने का नाम नहीं ले रहा है और पिछले कुछ दिनों में मामले भी बढ़े हैं और मौत का आंकड़ा भी बढ़ा है। हिमाचल में तपेदिक, कुष्ठ व अन्य रोगियों की जानकारी हासिल करना इस अभियान का लक्ष्य है। हालांकि, सरकार ने एक्टिव केस फाइंडिंग अभियान भी शुरू किया था जिसका लाभ भी मिलाए लेकिन अब मामले बढ़े है इसलिए कोरोना रोगियों की पहचान के लिए सरकार ने नए अभियान की शुरुआत की है जिसमें 8000 टीमें प्रदेश में घर-घर जाकर लोगों को जागरूक भी करेंगी और जानकारी भी एकत्र करेंगी।

यह भी पढ़ें: Mask नहीं पहना तो अब होगा 1000 रुपये जुर्माना, #Una पुलिस ने लिया फैसला

सीएम ने कहा कि अनलॉक में दी गई छूट के बाद मामले बढ़े और अब फिर से कैबिनेट (Cabinet) ने कई अहम निर्णय लिए, ताकि कोरोना को फैलने से रोका जा सके। रात्रि कर्फ्यू (Night Curfew) पर सीएम जयराम ने कहा कि रात में शादियों (Marriage) में घरों के अंदर समारोह किया जाता हैए जिससे बड़ी संख्या में लोग शामिल हो रहे हैं। सर्दियों में बंद कमरों में वेंटिलेशन ना होने के कारण संक्रमण तेजी से फैल रहा है, इसलिए रात्रि कर्फ्यू लगाया गया है लेकिन इस पर भी लोग समझ नहीं रहे। मजबूरी में सरकार सख्ती कर रही है,क्योंकि लोगों की लापरवाही बढ़ गई है। प्रदेश के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी को लेकर सवाल के जवाब में सीएम ने कहा कि ऐसा नही है, अस्पतालों में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन उपलब्ध है। अगर कहीं ऑक्सीजन की कमी से किसी की मौत हुई होगी तो उसकी जांच होगी। इस दौरान उन्होंने लोगों को कोविड नियमों का पालन करने की शपथ भी दिलाई।

 हमीरपुर में टीबी के मरीजों की भी स्क्रीनिंग की जाएगी

हमीरपुर में हिम सुरक्षा अभियान के तहत कोरोना के साथ टीबी के मरीजों की भी स्क्रीनिंग की जाएगी, ताकि कोरोना और टीबी के मरीजों की भी पहचान हो सकेगी। सीएमओ डॉ. अर्चना सोनी के अनुसार जिला में टीमें गठित कर दी गई है और अभियान के तहत कोविड और टीबी के मरीजों की पहचान कर उपचार किया जाएगा। वहीं स्क्रीनिंग के बाद जिला स्वास्थ्य विभाग के पास हर व्यक्ति का रोग से संबंधित डाटा भी उपलब्ध हो सकेगा। डॉ. सोनी ने बताया कि जिला में आगामी दिनों में अभियान के तहत ज्यादा से ज्यादा सैंपल लिए जाएंगे। वहीं कोविड और टीबी मरीजों के अलग अलग सैंपल लिए जाएंगे ताकि बीमारी को फैलने से रोका जा सके। अभियान में आशा वर्कर, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता , आर्युवेदिक विभाग के फार्मासिस्ट घर घर जाकर रोगियों की जांच करेंगे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

 

 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है