Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

चंडीगढ़ में जयराम बोले, गोवा से सीख लें अन्य राज्य

चंडीगढ़ में जयराम बोले, गोवा से सीख लें अन्य राज्य

- Advertisement -

चंडीगढ़। सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि पर्यटन क्षेत्र में न केवल राज्य की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के साथ-साथ इसमें रोजगार व स्वरोजगार की भी अपार संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि गोवा देश में एक ऐसा राज्य है, जिसकी आर्थिकी पर्यटन पर निर्भर है तथा पर्यटन के क्षेत्र में अपार प्रगति की है।
उन्होंने कहा कि देश के अन्य राज्यों को भी इससे सीख लेते हुए अपनी आर्थिकी सुदृढ़ करने के लिए पर्यटन को एक बड़ा साधन बनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य में आने वाले पर्यटकों के लिए यहां का शांत वातावरण एक प्रमुख आकर्षण है। उन्होंने कहा कि राज्य को अपने स्वच्छ तथा प्रदूषणमुक्त वातावरण को बढ़ावा दे रहा है तथा राज्य के 67 प्रतिशत भाग पर वन आवरण है। सीएम जयराम ठाकुर ने आज चंडीगढ़ में यह बात भारतीय पर्यटन कार्यशाला के समापन सत्र में बोलते हुए कही। सम्मेलन का आयोजन सेंटर फॉर इकॉनोमिक पॉलिसी रिसर्च चंडीगढ़ द्वारा एचपीटीडीसी, हरियाणा टूरिजम, उत्तर प्रदेश टूरिजम, पंजाब टूरिजम और उत्तराखंड टूरिजम के सहयोग से किया गया था।
जयराम ने कहा कि राज्य में छह गंतव्यों बद्दी, शिमला, रामपुर, नाथपाझाकड़ी, मंडी और मनाली को उड़ान-2 में शामिल किया गया है। उन्होंने कहा कि हिमाचल सरकार देश की ऐसी पहली सरकार है, जिसने सप्ताह में तीन दिन राज्य के सरकारी हेलीकॉप्टर को शिमला से चंडीगढ़ के बीच हैली टैक्सी सुविधा के लिए उपलब्ध करवाया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अधिक से अधिक रोप-वे बनाने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हाल ही में राज्य सरकार तथा पंजाब सरकार के बीच श्री आनंदपुर साहिब और श्री नयना देवी जी के बीच रोप-वे बनाने के लिए समझौता ज्ञापन में हस्ताक्षर हुए हैं। उन्होंने कहा कि इस रोपवे का निर्माण वर्ष 2021 तक पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार हिमाचल प्रदेश को स्वास्थ्य और अच्छी सेहत वाले पर्यटन केंद्रों के रूप में विकसित करेगी।
उन्होंने कहा कि इस दिशा में पहल करते हुए सरकार ने मंडी जिले के जंजैहली में वैलनेस और हेल्थ टूरिजम सेंटर शुरू करने का फैसला लिया है। इसी प्रकार से अन्य क्षेत्रों जैसे सोझा, झटींगरी, राजगढ़, बीड़बिलिंग आदि क्षेत्रों को भी इसी तर्ज पर विकसित किया जाएगा। जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य में साहसिक गतिविधियों जैसे पैराग्लाइडिंग, नौकायन, जल क्रीड़ाओं, स्कींग आदि की अपार संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार सुरक्षा नियमों को देखते हुए प्रदेश के लिए जल क्रीड़ा नियम बना रही है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है