×

Jai Ram बोले पीएम Modi के मंत्र, जान भी बचाएंगे जहान भी बचाएंगे पर होगा काम

Jai Ram बोले पीएम Modi के मंत्र, जान भी बचाएंगे जहान भी बचाएंगे पर होगा काम

- Advertisement -

शिमला। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने कहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के दिए गए मूलमंत्र, जान है तो जहान है, को आधार मानते हुए व जान भी बचाएंगे जहान भी बचाएंगे को सार्थक करने का प्रण लेते हुए हिमाचल में कोविड-19 की रोकथाम के लिए प्राथमिकता से आगामी कदम उठाए जाएंगे। जयराम ने ये बात पीएम मोदी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद कही। पीएम मोदी ने आज कोरोना (Corona) से संबंधित अपडेट लेने के लिए सभी राज्यों के सीएम से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (Video Conferencing) के जरिए बात की। इसके उपरान्त, सीएम जय राम ठाकुर ने शिमला से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से उपायुक्तों, पुलिस अधीक्षकों और मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को कोविड-19 को नियंत्रित करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी से मिले दिशा-निर्देशों के बारे में अवगत करवाया।


यह भी पढ़ें: ब्रेकिंगः Curfew में ढील के दौरान दो दिन खुलेंगी किताब-कापियों की दुकानें, यह दिन तय

सीएम ने आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करने की आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि यह कोविड-19 मामलों को ट्रैक और ट्रेस करने में सहायक सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि राहत शिविरों में रह रहे श्रमिकों की सेवाएं औद्योगिक इकाइयों में ली जाने की संभावनाओं का पता लगाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों की सुविधा के लिए प्रदेश में कर्फ्यू में दी गई ढील के दौरान सोमवार तथा गुरुवार को स्टेशनरी की दुकानें खुली रहेंगी। सीएम ने कहा कि विभिन्न राज्य के मुख्यमंत्रियों का मानना है कि लॉकडाउन का समय बढ़ाया जाना चाहिए तथा लॉकडाउन का यह चरण पहले से अलग होगा।

जयराम ठाकुर ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि कर्फ्यू के दौरान किसानों की सुविधा के लिए उचित कदम उठाए जाएं, क्योंकि उनकी फसल कटाई का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि उनकी फसल की खरीद के लिए भी कदम उठाए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि फसल कटाई के दौरान किसानों को सामाजिक दूरी के बारे में भी जागरूक किया जाना आवश्यक है। सीएम ने कहा कि राज्य में तब्लीगी जमात के संपर्क में आए 684 लोगों को क्वारंटाइन किया गया है और उन्हें तब तक निगरानी में रखा जाएगा, जब तक कि उन्हें चिकित्सक पूर्णतः स्वस्थ घोषित नहीं करते अन्यथा क्वारंटाइन करने का कोई औचित्य नहीं रह जाएगा। उन्होंने कहा कि एक्टिव केस फाइंडिंग अभियान के दौरान कोरोना वायरस के लक्षणों के लिए चिन्हित किए गए लोगों का परीक्षण करने के लिए 15 वाहनों को सैंपलिंग वाहन के रूप में परिवर्तित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: कोरोना अपडेटः आज अब तक कितने सैंपल जांचे, कितनों की Report आई नेगेटिव जानिए

जयराम ठाकुर ने कहा कि खाद्य और नागरिक आपूर्ति और नागरिक आपूर्ति निगम को लोगों की सुविधा के लिए खुले बाजारों में आवश्यक वस्तुओं का पर्याप्त स्टॉक सुनिश्चित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि नागरिक आपूर्ति निगम के डिपो में बफर स्टॉक सुनिश्चित करने के लिए भी प्रयास किए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि चेकिंग, होर्डिंग और मुनाफाखोरी पर विशेष जोर दिया जाना चाहिए और उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है