Covid-19 Update

1,99,430
मामले (हिमाचल)
1,92,256
मरीज ठीक हुए
3,398
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

इन्वेस्टर्स मीट का एक दौर यह भी जिसे जयराम हमेशा रखेंगे याद, जानिए क्या

इन्वेस्टर्स मीट का एक दौर यह भी जिसे जयराम हमेशा रखेंगे याद, जानिए क्या

- Advertisement -

रविंद्र चौधरी/धर्मशाला। हिमाचल में राइजिंग हिमाचल ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट (Rising Himachal Global Investors Meet) का आयोजन सीएम जयराम ठाकुर के लिए नया अनुभव है। लेकिन, इस इन्वेस्टर्स मीट (Investors Meet) में एक और अनुभव है जो सीएम जयराम ठाकुर को मिला है। यह क्या है, उन्हीं की जुबानी जानते हैं। राइजिंग हिमाचल ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट के दूसरे दिन निवेशकों को संबोधित करते हुए सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि आप सब ऐसे हालात व परिस्थितियों में हमारे बीच होंगे, जिसकी हमने भी कल्पना नहीं की थी। सोचा नहीं था कि मौसम ऐसे दौर में से हमें एक नया अनुभव देगा। यह दौर भी याद रहेगा। मौसम अपनी जगह और आप अपनी जगह डटे हुए हैं। इसके लिए आप सबका अभिनंदन करता हूं, धन्यवाद करता हूं और स्वागत करता हूं।


फल एवं खाद्य प्रसंस्करण में अपार संभावनाएं

सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में निवेश को आकर्षित करने के लिए पहली बार एक ‘हॉलिस्टिक दृष्टिकोणी अपनाते हुए कार्य आरंभ किया है। यह प्रदेश फल उत्पादन में अपार संभावनाएं से युक्त तथा यह प्रदेश देश के फल राज्य के नाम से जाना जाता है। उन्होंने कहा कि अपनी विविध जलवायु होने के कारण यहां पर विभिन्न प्रकार के फलों का उत्पादन किया जाता है।


 

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Chennel… 

उन्होंने कहा कि फल एवं खाद्य प्रसंस्करण (Fruit and food processing) में निवेश के लिए राज्य में अपार संभावनाएं हैं। इस प्रदेश की उपयुक्त जलवायु और यहां की विविधतापूर्ण स्थलाकृति प्रदेश को विभिन्न प्रकार के औषधीय पौधों के उत्पादन के लिए उपयुक्त बनाती है। राज्य सरकार सभी उद्यमियों, जो प्रदेश में निवेश करने की इच्छा रखते हैं, के लिए हर संभव सहायता प्रदान करेगी।


हिमाचल को एशिया के औषधीय हब के रूप जाना जाता

उन्होंने पर्यटन, आरोग्य और आयुष के समझौता ज्ञापन धारकों के साथ भी बैठक की और कहा कि प्रदेश में पर्यटन क्षेत्र में उद्यमियों को साहसिक, वन्य प्राणी, ईको टूरिज्म, धरोहर, अध्यात्मिक, स्मारक, धार्मिक, स्किइग आदि जैसी गतिविधियों में निवेश की व्यापक संभावनाएं विद्यमान हैं। प्रदेश सरकार राज्य में सतत पर्यटन प्रदेश में विकास की गति को बढ़ावा देने के प्रति वचनबद्ध है। यहां पर 300 फार्मा कम्पनियां और 700 से अधिक फार्मा उत्पाद इकाइयां कार्यरत है। इस प्रदेश को एशिया के औषधीय हब के रूप से भी जाना जाता है।


30 दिन के भीतर गृह निर्माण के नक्शों को मिलेगी स्वीकृति

आवास, शहरी विकास और परिवहन के समझौता ज्ञापन धारकों के साथ बैठक करते हुए सीएम ने कहा कि प्रदेश सरकार उद्यमियों को उनकी परियोजना को समयबद्ध तरीके से स्वीकृति प्रदान करने में एक ‘सुविधा कारक की भूमिका निभाएगी ताकि वे बिना किसी विलम्भ के अपना कार्य आरंभ कर सकें। उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ठाकुर ने कहा कि सीएम जयराम ठाकुर ने प्रदेश में निवेश हब के रूप में उभरा रहा है। शहरी विकास मंत्री सरवीण चौधरी ने कहा कि प्रदेश सरकार ने 30 दिन के भीतर गृह निर्माण के नक्शों की स्वीकृति प्रदान करने का निर्णय लिया है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Chennel… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है