×

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावेड़कर और नरेंद्र तोमर से मिले जयराम, रखी ये बड़ी मांगें

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावेड़कर और नरेंद्र तोमर से मिले जयराम, रखी ये बड़ी मांगें

- Advertisement -

नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात के बाद सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर व ग्रामीण विकास, पंचायती राम एवं कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर से भी भेंट की।


यह भी पढ़ें: अमित शाह से मिले जयराम, हाटी समुदाय को जनजातीय दर्जा दिलाने का किया आग्रह

सीएम जयराम ठाकुर ने प्रकाश जावेड़कर (Prakash Javadekar) से हिमाचल में चल रही विकासात्मक गतिविधियों में और तेजी लाने के लिए पांच हेक्टेयर तक वनभूमि (Forest Land) परवर्तित करने की शक्ति राज्य सरकार को प्रदान करने का आग्रह किया। वहीं, केंद्री मंत्री नरेंद्र तोमर (Central Minister Narendra Singh Tomar) से प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना पीएमजीएसवाई के अंतर्गत निर्मित सड़कों के रख-रखाव के लिए प्रदान की जा रही धनराशि में बढ़ोतरी की मांग की।

चंडीगढ़ के अधिकार क्षेत्र में हो क्षेत्रीय कार्यालय

बता दें कि सीएम जयराम ठाकुर ने आज नई दिल्ली (New delhi) में केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से भेंट कर उन्हें मंत्रालय का पदभार संभालने की शुभकामनाएं दीं। सीएम जयराम ठाकुर ने केंद्रीय मंत्री से वन और पर्यावरण से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर विस्तारपूर्वक चर्चा की। उन्होंने कहा कि पहाड़ी राज्य होने के कारण हिमाचल (Himachal) का अधिकतर क्षेत्र वन भूमि के अंतर्गत आता है, जिससे परियोजनाओं को पूरा करने में बाधा उत्पन्न होती है। यदि वन भूमि को परिवर्तित करने की शक्ति राज्य को प्रदान की जाती है तो विकासात्मक परियोजनाओं के कार्य निष्पादन में तेजी आएगी।

उन्होंने अवगत करवाया कि हिमाचल प्रदेश देहरादून क्षेत्रीय कार्यालय (Dehradun Regional Office) के अधिकार क्षेत्र के अंतर्गत है, जो काफी दूर है और विकास कार्यों में विलंब होता है। यदि हिमाचल प्रदेश को क्षेत्रीय कार्यालय चंडीगढ़ के अधिकार क्षेत्र के अंतर्गत शामिल किया जाता है, तो कार्य निष्पदान में सुगमता और तेजी आएगी, क्योंकि चंडीगढ़ (Chandigarh) हिमाचल के काफी निकट है। केंद्रीय मंत्री ने मामलों पर गंभीरता से विचार करने का आश्वासन दिया।

बस्तियों और आंतरिक सड़कों के रखरखाव के लिए बजट में मांगा प्रावधान

सीएम जयराम ठाकुर ने ग्रामीण विकास, पंचायती राज एवं कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर से भी मुलाकात की। हिमाचल प्रदेश की बस्तियों और आंतरिक सड़कों के रखरखाव के लिए बजट में प्रावधान करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि उपयुक्त बजट (Suitable Budget) प्रावधान के बिना पंचायतें इन सड़कों को समुचित रखरखाव करने में सफल नहीं हैं। उन्होंने कहा कि पहाड़ी राज्य होने के कारण प्रदेश की सड़कें आवागमन का मुख्य स्त्रोत हैं। कृषकों के उत्पादक को बाजार तक पहुंचाने के लिए गांवों के आंतरिक संपर्क मार्गां से जोड़ना बहुत आवश्यक है।

उन्होंने केंद्र सरकार (central government) से इन सड़कों के उचित रख-रखाव के लिए पर्याप्त धनराशि प्रदान करने का भी आग्रह किया। जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना पीएमजीएसवाई (PMGSY) के अंतर्गत निर्मित सड़कों के रख-रखाव के लिए प्रदान की जा रही धनराशि अपर्याप्त है, जिसमें बढ़ोतरी की आवश्यकता है, ताकि इन सड़कों का उचित रख-रखाव किया जा सके। केंद्रीय मंत्री ने इन मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर मुख्य सचिव बीके अग्रवाल भी उपस्थित थे।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है