×

तत्तापानी और सलापड़ क्षेत्र के मध्य आरंभ होगी Water Transport Facility, युवाओं को मिलेगा रोजगार

अंतर्देशीय जल परिवहन की समीक्षा बैठक में बोले सीएम जयराम ठाकुर

तत्तापानी और सलापड़ क्षेत्र के मध्य आरंभ होगी Water Transport Facility, युवाओं को मिलेगा रोजगार

- Advertisement -

शिमला। तत्तापानी और सलापड़ क्षेत्र के मध्य जल परिवहन सुविधाएं विकसित (Water Transport Facility) करने के लिए तत्तापानी और कसोल गांव में 2.02 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से दो जैटीज और सामान्य सुविधाएं निर्मित की जाएंगी। सीएम जय राम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने यह बात गुरुवार को यहां अंतर्देशीय जल परिवहन की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही। उन्होंने कहा कि इस मामले में एनटीपीसी से जैटीज के निर्माण के लिए भूमि के उपयोग के लिए समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित करने के लिए प्रारूप समझौता प्राप्त कर लिया गया है। सीएम ने कहा कि इससे ना केवल क्षेत्र के लोगों को कम लागत में प्रभावी परिवहन सुविधाएं उपलब्ध होंगी, बल्कि क्षेत्र में आने वाले पर्यटकों (Tourist) के लिए भी यह आकर्षण का अतिरिक्त केंद्र साबित होगा। इससे आस-पास के क्षेत्रों में आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा और युवाओं के लिए रोजगार और स्वरोजगार के अवसर सृजित होंगे।


यह भी पढ़ें: दिल्ली में बनेगा #Himachal का New Guest House ,सीएम जयराम ने दिखाई तेजी

जय राम ठाकुर ने कहा कि परामर्श सेवाओं के लिए ई-टेंडर आमंत्रित किए जा चुके हैं, ताकि विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार की जा सके। कोल बांध, भाखड़ा बांध, चमेरा बांध और पौंग बांध जलाश्यों में विधि मान्य स्थानों पर टेंडर दस्तावेज (Tender document) तैयार करने के लिए भी ई-टेंडर आमंत्रित की गईं हैं। यात्रियों और माल (यदि कोई हो) के लिए डिजाइन तत्वों का मॉड्यूलेराइजेशन और भविष्य में किए जाने वाले संभावित परिवर्तन के लिए अनुकूल योग्य डिजाइन मॉडल का विकास भी इसका हिस्सा होगा।

कोल डैम में 10 रूट किए अधिसूचित

सीएम ने कहा कि कोल डैम में 10 रूट अधिसूचित किए गए हैं जिनमें अहान से कोल, कियान से सुई वाया बियो, सूई से नेरी-रोपड़ू वाया बियो, नेरी-रोपड़ू से कारला-बेरल, दोघरी से कारला-बेरल, कियान से जरटू, शाकरा से कियान, चाबा से सरौर, तत्तापानी से क्यारी (चिल्ला) और कियान से कारला अहान, जरटू, सूई, मेहन्दला और नेरी रोपड़ू (ठहराव के साथ) मार्ग शामिल हैं। भारतीय अंतर्देशीय जलमार्ग प्राधिकरण (Inland waterways authority of india) और परिवहन विभाग ने 20 जुलाई, 2019 को कोल डैम में सम्भावनाएं खोजने के लिए संयुक्त निरीक्षण किया जिसमें राजकीय महाविद्याल सुन्नी, हॉट स्प्रिंग होटल तत्तापानी के निकट, रंदौल गांव और कसोल गांव को तत्तापानी और सलापड़ के बीच जल परिवहन आरम्भ करने के लिए उपयुक्त पाया गया।

गोविन्द सागर बांध में चिन्हित किए 107 अंतर्देशीय जल परिवहन मार्ग

जय राम ठाकुर ने कहा कि विभाग को वित्ता पोषण के लिए भारतीय अंतर्देशीय जल प्राधिकरण के समक्ष विभिन्न परियोजनाएं रखनी चाहिए। भारत सरकार ने 25 मार्च, 2016 को राष्ट्रीय राजमार्ग अधिनियम-2016 के तहत चार राष्ट्रीय जलमार्ग घोषित किए। इनमें ब्यास नदी में तलवाड़ा बेरेज से हरकीधाम, चेनाब नदी पर चेनाब सड़क पुल से भद्राकलां के निकट पुल, रावी नदी में गंधियार बांध से रंजीत सागर बांध और सतलुज नदी में सुन्नी सड़क पुल से हरकीधाम शामिल हैं। सीएम जयराम ने कहा कि गोविन्द सागर बांध में 107 अंतर्देशीय जल परिवहन मार्ग चिन्हित किए गए है और कुल 170 परमिट दिए गए है। 60 किमी लंबा बिलासपुर-भाखड़ा मार्ग सबसे लंबा रूट है जिसके लिए लोगों को केवल 80 रुपये किराया देना पड़ता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है