Covid-19 Update

58,457
मामले (हिमाचल)
57,233
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,045,587
मामले (भारत)
112,852,706
मामले (दुनिया)

छतरी पहुंचे Jai Ram को याद आया Janjehli का विरोध, बोले दूसरे की गलती का भुगता खामियाजा

छतरी पहुंचे Jai Ram को याद आया Janjehli का विरोध, बोले दूसरे की गलती का भुगता खामियाजा

- Advertisement -

CM Jai Ram Janjehli issue: छतरी। सराज विधानसभा क्षेत्र के एक दिवसीय प्रवास के दौरान CM Jai Ram Thakur को छतरी पहुंचकर Janjehli में कुछ दिन पहले मचे बवाल की याद भी आ गई। उन्होंने कहा कि Janjehli में उपजे विवाद में गलती किसी और की थी और खामियाजा किसी और को भुगतना पड़ा। CM Jai Ram Thakur ने कहा कि वह जल्द ही Janjehli में जाकर सभी लोगों से मुलाकात करेंगे क्योंकि अब यह मामला शांत हो चुका है। बता दें कि छतरी की उपतहसील की अधिसूचना भी हाईकोर्ट ने रद की थी जिसे सरकार ने बाद में बहाल कर दिया था।

CM Jai Ram Thakur ने छतरी के विकास के लिए करोड़ों की घोषणाएं भी की। उन्होंने छतरी में आइटीआई खोलने का ऐलान किया। इसके साथ ही शिमला से गाड़ागुशैनी बाया छतरी बस सेवा आरंभ करने का भी ऐलान किया। छतरी बस स्टैंड के लिए 20 लाख तथा रेस्ट हाउस की उपरी मंजिल के निर्माण के लिए 16 लाख रुपए देने की घोषणा की। इसके साथ ही उन्होंने इलाके की 6 पंचायतों को विकास के लिए 15-15 लाख और सड़कों के विस्तार के लिए करोड़ों की राशि जारी करने का ऐलान भी किया। CM Jai Ram Thakur ने कहा कि सरकार प्रदेश के अनछुए क्षेत्रों को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करेगी, जिसके लिए 50 करोड़ रुपए का बजट चिन्हित किया गया है।

कांग्रेस पर जमकर साधा निशाना

CM Jai Ram Thakur विपक्षी दल कांग्रेस पर भी आक्रामक मुद्रा में नजर आए। उन्होंने सरकार के निर्णयों पर कांग्रेस द्वारा किए जा रहे विरोध को अनुचित बताते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। CM Jai Ram Thakur ने कहा कि उनकी सरकार ने मंदिरों से गौ माता की सेवा के लिए अंशदान क्या मांगा कांग्रेस इसका भी विरोध करने लग गई। कांग्रेस ने इसे अनुचित बताते हुए कई आरोप लगाए। जयराम ठाकुर ने इसका जवाब देते हुए कहा कि उन्होंने सिर्फ गौ माता की सेवा के लिए मंदिरों से अंशदान मांगा है जबकि कांग्रेस की सरकार के दौरान मंदिरों के इन्हीं पैसों से आलिशान भवन बने हैं, लग्जरी गाड़ियां, एसी, मोबाइल और कम्प्यूटर तक खरीदे गए हैं। उन्होंने कहा कि आज इस बात को समझने की जरूरत है कि किसने मंदिरों के पैसों का सदुपयोग किया और किसने दुरुपयोग।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है