Covid-19 Update

59,118
मामले (हिमाचल)
57,507
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,228,288
मामले (भारत)
117,215,435
मामले (दुनिया)

जयराम ठाकुर की जुबानी जानिए, हिमाचल को बरसात से मिले कितने करोड़ के जख्म

जयराम ठाकुर की जुबानी जानिए, हिमाचल को बरसात से मिले कितने करोड़ के जख्म

- Advertisement -

मंडी। भारी बरसात तथा जनजातीय क्षेत्रों में अप्रत्याशित बर्फबारी के कारण राज्य को इस वर्ष पहली जुलाई से लगभग 1600 करोड़ रुपए का संचयी नुकसान व क्षति हुई है। सीएम जयराम ठाकुर ने यह बात राज्य को मौसम में अचानक बदलाव, वर्षा तथा असमायिक बर्फबारी से हुए नुकसान के आंकलन के लिए राज्य के दौरे पर अंतर मंत्रालय केंद्रीय टीम के साथ मंगलवार को मंडी में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही।

सीएम ने कहा कि मुख्य नुकसान लोक निर्माण विभाग को पहुंचा है, जिसमें सड़कें और पुल इत्यादि शामिल हैं। उन्होंने कहा कि सड़कों व पुलों को लगभग 930 करोड़ रुपए का नुकसान आंका गया है। उन्होंने कहा कि राज्य में कुल 405 भूस्खलन तथा 34 बादल फटने की घटनाएं हुई हैं। उन्होंने कहा कि सिंचाई एंव जन स्वास्थ्य विभाग को 430 करोड़ रुपए का नुकसान पहुंचा है। उन्होंने कहा कि भारी वर्षा तथा अप्रत्याशित बर्फबारी के कारण कृषि फसलों तथा अधोसंरचना को 130.37 करोड़ रुपए की क्षति की रिपोर्ट प्राप्त हुई है।

जयराम ठाकुर ने कहा कि बाढ़, भू-स्खलन, बादल फटने तथा सड़क दुर्घटनाओं के कारण 343 लोगों ने अपनी जानें गवाई हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने मानव जीवन के नुकसान की क्षतिपूर्ति के लिए 13.72 करोड़ रुपए की अनुग्रह राशि प्रदान की है। उन्होंने कहा कि सरकार ने क्षतिग्रस्त सड़कों व अधोसंरचना को शीघ्र बहाल करना सुनिश्चित किया है, ताकि आम जनमानस तथा राज्य में आने वाले सैलानियों को असुविधा न हो।

4033 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया

सीएम ने कहा कि चंबा, कुल्लू तथा लाहुल-स्पीति जिलों से 3 सितंबर से एक अक्तूबर के बीच विभिन्न माध्यमों द्वारा 4033 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। उन्होंने केंद्र सरकार और विशेषकर पीएम नरेंद्र मोदी का राहत एवं पुनर्वास कार्य सुनिश्चित करने में हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के आग्रह पर लाहुल-स्पीति तथा चंबा जिलों में फंसे लोगों को सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाने के लिए राज्य को भारतीय वायुसेना के सात हेलीकॉप्टर प्रदान किए गए।

उन्होंने कहा कि इन जिलों से 292 लोगों को हेलीकॉप्टर से सुरक्षित स्थानों तक लाया गया। जयराम ठाकुर ने अंतर मंत्रालय केंद्रीय दल से राज्य सरकार को हुए नुकसान और क्षति जो पिछले 10 वर्षों में सर्वाधिक है, को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार से अधिक से अधिक समर्थन की संस्तुति के लिए आग्रह किया। विशेष सचिव राजस्व व आपदा प्रबंधन डीसी राणा ने इस अवसर पर सीएम तथा अन्यों का स्वागत किया तथा बरसात के दौरान राज्य को हुए नुकसान का ब्योरा दिया।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है