Covid-19 Update

2,06,589
मामले (हिमाचल)
2,01,628
मरीज ठीक हुए
3,507
मौत
31,767,481
मामले (भारत)
199,936,878
मामले (दुनिया)
×

नई औद्योगिक इकाइयों में प्रदूषण नियंत्रण के मापदण्डों को पूरा किया जाएगाः सीएम जयराम

नई औद्योगिक इकाइयों में प्रदूषण नियंत्रण के मापदण्डों को पूरा किया जाएगाः सीएम जयराम

- Advertisement -

शिमला। सीएम जय राम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने आज यहां राज्य पर्यावरण एवं संरक्षण और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के शान्त व स्वच्छ पर्यावरण को कायम रखने के लिए प्रतिबद्ध है और यह सुनिश्चित बनाया जाएगा कि वर्तमान और नई स्थिापित होने वाली औद्योगिक इकाइयों में प्रदूषण नियंत्रण (Pollution control) के सभी मापदण्डों को पूरा किया जाए। सीएम ने कहा कि नई स्थापित होने वाली औद्यागिक इकाइयों में प्रदूषण उपचार संयंत्र अनिर्वाय बनाया जाए ताकि पर्यावरण में न्यूनतम प्रदूषण फैले। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को यह भी सुनिचित करना चाहिए कि सभी वर्तमान अपशिष्ट उपचार संयंत्र उचित प्रकार से चले ताकि औद्योगिक इकाइयों से निकलने वाले पानी से प्रदूषण न हो।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें… 

उन्होंने कहा कि बद्दी-बरोटीवाला, नालागढ़, काला अम्ब व परवाणु जैसे औद्योगिक नगरों में प्रदूषण नियंत्रण पर विशेष ध्यान दिया जाए। बद्दी में अपशिष्ट उपचार संयंत्र के सुधार का कार्य शीघ्रता से पूरा किया जाए, जिससे उद्योगों से सिरसा नदी में जाने वाले 1.10 एमएलडी कूडे़ का उपचार सुनिश्चित हो सके। उन्होंने कहा कि काला अम्ब में भी अपशिष्ट उपचार संयंत्र स्थापित करने का प्रस्ताव है, जिससे क्षेत्र के लोगों को काफी राहत मिलेगी। इसके अतिरिक्त काला अम्ब में ठोस कचरा प्रबन्धन की सुविधा प्रदान करने का भी प्रस्ताव है। जय राम ठाकुर ने कहा कि जल एवं ठोस कचरा प्रदूषण के अतिरिक्त वायु प्रदूषण पर नियंत्रण के लिए भी कदम उठाए जाने चाहिए।


सीएम जयराम ने आगे कहा कि प्रायः यह पाया गया है कि औद्योगिक क्षेत्रों में कच्चे रास्तों पर वाहनों की भारी आवाजाही के कारण वायु प्रदूषण फैलता है। उन्होंने निर्देश दिए कि टैंकरों से पानी उपलब्ध करवाकर कच्चे सड़क मार्गों पर धूल हटाने के लिए नियमित रूप से सफाई की जाए। इसके साथ ही सड़क किनारे वृक्ष लागए जाएं। इन क्षेत्रों में खुले स्थानों पर हरित क्षेत्र, बागीचे और पार्क विकसित किए जाएं, जिसका लाभ लोगों को मिलेगा। सीएम ने सम्बन्धित अधिकारियों को मल निकास पाईपों के समुचित डिजाईन और बिछाने तथा इनका उचित रख-रखव करने के भी निर्देश दिए। पर्यावरण, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव आर.डी. धीमान ने सीएम को अश्वस्त किया कि राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड यह सुनिश्चित बनाएंगा कि राज्य के प्रदूषण मुक्त पर्यावरण को हर कीमत पर संरक्षित रखा जाए। उन्होंने कहा कि दोषियों के विरूद्ध बोर्ड आवश्यक कार्रवाई करेगा।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Chennel… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है