Covid-19 Update

1,99,197
मामले (हिमाचल)
1,91,732
मरीज ठीक हुए
3,394
मौत
29,633,105
मामले (भारत)
177,414,471
मामले (दुनिया)
×

बड़ी खबरः तीन मई के बाद भी लॉकडाउन बढ़ाने के पक्ष में Jai Ram, मोदी को दिया सुझाव

बड़ी खबरः तीन मई के बाद भी लॉकडाउन बढ़ाने के पक्ष में Jai Ram, मोदी को दिया सुझाव

- Advertisement -

शिमला। पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक की। सीएम जयराम ठाकुर ने पीएम नरेंद्र मोदी को तीन मई के बाद भी लॉकडाउन बढ़ाने का सुझाव दिया है। सीएम जयराम ठाकुर ने पीएम नरेंद्र मोदी से आपातकाल से स्थिति से निपटने के लिए पर्याप्त संख्या में वेंटिलेटर (Ventilator) प्रदान करने का भी आग्रह किया। वहीं, पीएम नरेंद्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश में एक्टिव केस फाइंडिंग अभियान (Active Case Finding Campaign) शुरू करने के लिए सीएम जयराम ठाकुर के प्रयासों की सराहना की।

यह भी पढ़ें: ऑनलाइन पास की सुविधा मिलते ही हिमाचल के पंजाब से सटे बॉर्डर पर Vehicles की लंबी कतारें

उन्होंने कोरोना वायरस (Coronavirus) की महामारी से निपटने के लिए सभी राज्यों से इस पहल में हिमाचल प्रदेश का अनुसरण करने का भी आग्रह किया। पीएम ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करने के लिए लोगों को प्रेरित करने के लिए कहा। वहीं,  उन्होंने कहा कि हालांकि, राज्य में फार्मा इकाइयों में विनिर्माण शुरू कर दिया गया है और देश के साथ-साथ दुनिया की आवश्यकताओं को पूरा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लगभग 80 प्रतिशत फार्मा एमएसएमई क्षेत्र में था, इसलिए केंद्र सरकार को रासायनिक और कच्चे माल की सुचारू आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए हर संभव मदद करनी चाहिए।


यह भी पढ़ें: राहत की बातः Himachal के सात जिलों में कोरोना जीरो, 5 में बचे एक्टिव मामले

जयराम ठाकुर (Jai Ram Thakur) ने कहा कि राज्य सरकार ने राज्य में आर्थिक गतिविधियों को फिर से शुरू करने के लिए एक कार्यबल का गठन किया है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में हर साल लाखों देसी और विदेशी पर्यटक आते थे। कोरोना महामारी ने राज्य में पर्यटन उद्योग को पूरी तरह से बर्बाद कर दिया है। उन्होंने कहा कि इसी तरह हिमाचल की अर्थव्यवस्था में सेब की अहम भूमिका है।  उन्होंने कहा कि कार्टन बॉक्स की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने और सेब के सुचारू परिवहन के लिए एक बेहतर सुविधा सुनिश्चित करने की तत्काल आवश्यकता है।


सीएम ने कहा कि वर्तमान में 40 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। इनमें से 25 लोग ठीक हुए हैं। इसके अलावा चार व्यक्ति राज्य से बाहर इलाज के लिए गए हैं और एक व्यक्ति की मौत हो गई है। उन्होंने कहा कि शेष 10 व्यक्ति राज्य के अस्पतालों में उपचाराधीन हैं। राज्य के किसी भी हिस्से से पिछले पांच दिन के दौरान कोरोना वायरस का कोई मामला सामने नहीं आया है।  जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल में कोरोना वायरस को पहला मामला 19 मार्च को सामने आया था। इसके बाद कांगड़ा जिले में कर्फ्यू लगाया गया है। उन्होंने कहा कि 23 मार्च को कोरोना वायरस की श्रृंखला को तोड़ने के लिए सभी राज्य को कर्फ्यू के तहत रखा गया था। उन्होंने कहा कि आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति श्रृंखला सुनिश्चित की गई है, ताकि लोगों को कर्फ्यू लगाने के कारण किसी भी असुविधा का सामना ना करना पड़े।

यह भी पढ़ें: DC बोले- बाहरी राज्य से Kangra आने को ऑनलाइन बनवाए यात्रा परमिट

सीएम ने कहा कि चूंकि राज्य के छह जिले ग्रीन जोन में थे और इन जिलों में कोरोना वायरस का एक भी मामला सामने नहीं आया है। उन्होंने कोविड -19 महामारी के मद्देनजर लॉकडाउन जारी रखने की आवश्यकता महसूस की, लेकिन साथ ही राज्यों को विशेष रूप से ग्रीन जोन में अपनी आर्थिक गतिविधियों को शुरू करने की अनुमति दी जाएगी। जयराम ने कहा कि राज्य का परीक्षण अनुपात 700 मिलियन प्रति जनसंख्या था जो देश में सबसे अधिक था।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है