Expand

English के चंद शब्दों के उच्चारण से स्वयं को न समझें शिक्षित

English के चंद शब्दों के उच्चारण से स्वयं को न समझें शिक्षित

- Advertisement -

शिमला। अंग्रेजी के चंद शब्दों के उच्चारण से स्वयं को शिक्षित मानने के बजाए शिक्षा में गुणवत्ता लाना अधिक महत्वपूर्ण है। अल्प ज्ञान के जगह अपने आप को पूर्ण ज्ञान से सुसज्जित करना चाहिए और महज परीक्षा उतीर्ण करना पर्याप्त नहीं है, बल्कि बच्चे को कम से कम 95 प्रतिशत अंक हासिल कर मैरिट में स्थान पाना चाहिए। उद्देश्य को हासिल करने के लिए हमें समस्त बुनियादी सुविधाओं व अधोसंचरना के सुदृढ़ीकरण सहित और अधिक आदर्श विद्यालयों की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि कुछ दुर्गम क्षेत्रों को छोड़ और अधिक शिक्षण संस्थान खोलने के बजाए मौजूदा शिक्षण संस्थानों को समेकित करने का समय आ गया है।

  • 1सीएम वीरभद्र सिंह की नसीहत, शिक्षा में गुणवत्ता लाना अधिक महत्वपूर्ण
  • परीक्षा उतीर्ण करना काफी नहीं, कम से कम 95 प्रतिशत अंक हासिल करना जरूरी

यह बात सीएम वीरभद्र सिंह ने आज राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला शोघी के वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह में कही। उन्होंने कहा कि गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने के लिए प्रत्येक स्कूल में अध्यापकों के सभी रिक्त पदों को भरने की आवश्यकता है। सीएम ने कहा कि पोर्टमोर स्कूल शिमला की तर्ज पर राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला शोघी को आदर्श विद्यालय घोषित करने के अलावा घणाहट्टी, सुन्नी तथा हलोग-धामी राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशालाओं को शीघ्र ही आदर्श विद्यालय के रूप में अधिसूचित किया जाएगा।

cm3वीरभद्र सिंह ने कहा ‘मैं चाहता हूं कि बच्चों की शारीरिक क्षमताओं का पोषण करने के लिए प्रत्येक स्कूल में खेल का मैदान हो और इस दिशा में शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र की प्रत्येक राजकीय पाठशाला में खेल मैदानों के निर्माण के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि बच्चों को व्यावसायिक शिक्षा प्रदान करने के लिए शामलाघाट में महिलाओं के लिए एक व्यावसायिक प्रशिक्षण संस्थान आरम्भ किया गया है। इसके अलावा, सुन्नी तहसील के बसन्तपुर में पॉलीटैक्निक कालेज अधिसूचित किया गया है।

सीएम ने कहा कि सुन्नी, दाड़गी तथा जलोग में तीन औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान खोलने की घोषणा की गई है, जिनका निर्माण कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि 105 करोड़ रुपये की एक प्रमुख घड़ोग-घंडल जलापूर्ति योजना लगभग पूरी होने वाली है, जिससे शिमला ग्रामीण की 41 पंचायतें लाभान्वित होंगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है