×

फतेहपुर CM जनसभाः कांग्रेसियों का रंज, जमाई पर तंज

फतेहपुर CM जनसभाः कांग्रेसियों का रंज, जमाई पर तंज

- Advertisement -

गफूर खान/फतेहपुर। विधानसभा क्षेत्र फतेहपुर की राजनीति में जब से राजनितिक विरासत को सौंपने की तैयारी की बातें उछल रही हैं, तब से यहां के पुराने कांग्रेस कार्यकर्ताओं की नींद उड़ी हुई है। जब जहां मौका मिलता है पुराने कांग्रेस कार्यकर्ता अपने मन की टीस निकला ही लेते हैं। ऐसा ही कुछ नजारा आज फतेहपुर के रामलीला मैदान में आयोजित जनसभा में भी देखने को मिला। क्षेत्र के वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं में शुमार गिरिधर गोपाल को जब मंच पर बोलने का मौका मिला तो उन्होंने खुलकर कांग्रेस सरकार और स्थानीय विधायक एवं कैबिनेट मंत्री सुजान सिंह पठानिया की तारीफों के पल बांधे।


  • सिफारिश के बहाने सुना दिए ताने
  • पक्ष लिया या कटाक्ष किया बना चर्चा का विषय

इसी दौरान बातों बातों में ही उन्होंने खुद को कांग्रेस पार्टी का टिकट नहीं मिलने का दर्द भी इशारों-इशारों में ही बयान कर दिया। गोपाल यहीं नहीं रुके बल्कि जब वह अपना भाषण खत्म कर चुके तो फिर से अपनी बात शुरू की। इस बार उनके निशाने पर विधानसभा क्षेत्र में सुर्खियों में बने सुजान सिंह पठानिया के दामाद रवि ठाकुर थे।

गोपाल ने मजाकिया लहजे में कहा कि हमारे एक दामाद हैं और हमारी परंपरा है कि हम लोग दामाद से कोई काम नहीं करवाते। लेकिन, आज सुबह जब दामाद जी मुझे मिले तो उनकी दाढ़ी बढ़ी हुई थी और थकान चेहरे से झलक रही थी। पहले तो मैं उन्हें पहचान नहीं पाया। लेकिन, दामाद ने अपना परिचय दिया तो मैं उनकी हालत देखकर दंग रह गया। गिरधारी ने सीएम से कहा कि हम लोग तो दामाद से काम नहीं करवा सकते पर यह दामाद आपका काम करने के लिए विशेष रूप से तीन चार दिन के लिए यहां आते हैं। यह हम लोगों पर इनका कर्ज चढ़ रहा है और सीएम साहब हमारे दामाद का कर्ज भी साथ-साथ उतारते चलें। गिरधारी ने सिफारिश करने के बहाने ठाकुर पर ताने कस दिए। उन्होंने एक तरह से यह साफ़ कर दिया कि दामाद जी सिर्फ दो चार दिन के लिए यहां आते हैं वो भी खासकर तब जब सीएम का क्षेत्र में कोई कार्यक्रम हो। हालांकि गिरिधर गोपाल की इस टिप्पणी को कुछ कांग्रेसी सकारात्मक रूप से लेते हुए बहुत सुख का अनुभव कर रहे थे कि जो लोग इस राजनीतिक विरासत के हस्तांतरण में रोड़ा बन सकते थे, वहीं सीएम से दामाद की वकालत कर रहे हैं। भविष्य में जो भी हो वो तब की बात है पर फिलहाल फतेहपुर की जनता में नई राजनीतिक चर्चा का विषय मिल गया है कि पुराने कांग्रेस कार्यकर्ता इस सत्ता हस्तांतरण का स्वागत कर रहे हैं कि इसका विरोध कर रहे हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है