Covid-19 Update

1,98,551
मामले (हिमाचल)
1,90,377
मरीज ठीक हुए
3,375
मौत
29,505,835
मामले (भारत)
176,585,538
मामले (दुनिया)
×

Una में दम तोड़ चुके नवजात को रेफर करने वाले Private Hospital का एक और कारनामा

Una में दम तोड़ चुके नवजात को रेफर करने वाले Private Hospital का एक और कारनामा

- Advertisement -

ऊना। दम तोड़ चुके नवजात को पीजीआई रेफर करने वाले ऊना (Una) के निजी अस्पताल (Private Hospital) का एक और कारनामा सामने आया है। अब एक महिला ने अस्पताल के डॉक्टर पर उसके बेटे का जबरदस्ती इलाज करने और दुर्व्यवहार करने का आरोप जड़ा है। मामले की शिकायत मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पर भी की है। शिकायत पर स्वास्थ्य विभाग जांच में जुटा है। विभाग ने निजी अस्पताल से रिकॉर्ड तलब कर लिया है। वहीं, पिछले कल सामने आए दोनों मामलों की भी परिजनों ने मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज करवा दी है।

यह भी पढ़ें: दम तोड़ चुकी नवजात को PGI कर दिया रेफर, निजी अस्पताल के खिलाफ परिजनों का हल्ला

बता दें कि ऊना के निजी शिशु अस्पताल पर मौत के बाद बच्चे को पीजीआई (PGI) रेफर करने और एक अन्य मामले में डॉक्टर की लापरवाही से बच्चे की मौत के आरोप के बाद अब पीड़ित लोग निजी अस्पताल के खिलाफ खुलकर सामने आने लग गए हैं। सुनेहरा निवासी नैया शर्मा का आरोप है कि 12 जनवरी को उसने एक प्राइवेट अस्तपाल में बेटे को जन्म दिया। डिलीवरी के बाद बेटे की तबीयत खराब बताई गई और साथ लगते बच्चों के अस्पताल भेज दिया। नैया शर्मा का कहना है कि मुझे दो घंटे बाद बेटे को वापस करने की बात कही गई थी, लेकिन दो दिन बीत जाने के बाद भी बेटे का शिशु रोग विशेषज्ञ उपचार करते रहे।


पीड़िता ने बताया कि शिशु रोग विशेषज्ञ ने बेटे को सांस की शिकायत बताते हुए उपचार किया। उन्होंने कहा कि दो दिन बीत जाने के बाद भी बेटे को शिशुरोग विशेषज्ञ छुट्टी नहीं दे रहा था, जहां से जबरदस्ती बेटे को लेकर मोहाली के एक निजी अस्पताल ले गए। नैया शर्मा ने बताया कि शिशुरोग विशेषज्ञ ने मुझे काफी टॉर्चर किया। उन्होंने बताया कि डॉक्टर ने ना हमें सम्मरी शीट दी और ना ही कोई ट्रीटमेंट शीट दी है। उन्होंने बताया कि बच्चे को वहां से ले जाने को लेकर शिशु रोग विशेषज्ञ ने मेरे खिलाफ एफआईआप दर्ज करवाने की धमकी भी दी।


वहीं, जब इस बारे में आरोपी डॉक्टर का पक्ष जानना चाहा तो उन्होंने कैमरा के सामने आने से ही इंकार कर दिया। एमओएच डॉ. निखिल सहोड़ ने बताया कि मुख्यमंत्री हेल्पलाइन से नैया शर्मा की शिकायत आई है, जिसे लेकर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने निजी अस्पताल से रिकॉर्ड तलब कर लिया है और मामले की जांच की जा रही है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है