Covid-19 Update

2,00,603
मामले (हिमाचल)
1,94,739
मरीज ठीक हुए
3,432
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

सुंदरनगर: चांदपुर डंपिंग साइट में कूड़े कचरे से बनेगी खाद, नप की आर्थिकी होगी मजबूत

सुंदरनगर: चांदपुर डंपिंग साइट में कूड़े कचरे से बनेगी खाद, नप की आर्थिकी होगी मजबूत

- Advertisement -

सुंदरनगर। उपमंडल सुंदरनगर में चांदपुर स्थित डंपिंग साइट (Dumping Site)पर कई वर्षों से जमा कूड़ा-कचरा अब खाद (Compost) के साथ-साथ नगर परिषद की आर्थिकी को भी सुदृढ़ करेगा। इस डंपिंग साइट पर ट्रोमिल मशीन की मदद से कूड़ा-कचरे (Waste garbage)  से बनी खाद और इसमें शामिल पॉलिथीन को अलग करके बेचा जाएगा। इस मशीन के माध्यम से नगर परिषद की डंपिंग साइट में कचरे की छंटाई की जा रही है। नगर परिषद सुंदरनगर को शहरी विकास विभाग द्वारा उपलब्ध करवाई गई लगभग 15 लाख की ट्रोमिल मशीन पुराने कचरे को तीन भागों में अलग कर रही है।

एक भाग में खाद, दूसरे में पत्थर, मिट्टी, शीशे और तीसरे भाग में पॉलिथीन अलग हो जाएगा। इसके साथ मशीन पुराने कचरे में शामिल प्लास्टिक, कांच की बोतल, कपड़े, कागज, जूते-चप्पल, पॉलिथीन, सीमेंट क बोरियां, धूल सहित अन्य कचरे को अलग-अलग कर तीन छोटे-छोटे हिस्सों में विभाजित कर देगी। वहीं, आरडीएफ वेस्ट एसीसी सीमेंट फैक्ट्री बरमाणा (ACC Cement Factory Barmana) में बतौर इंधन उपयोग में लाया जा रहा है। नगर परिषद सुंदरनगर के उपाध्यक्ष दीपक सेन व कार्यकारी अधिकारी अशोक शर्मा ने बताया की नगर परिषद सुंदरनगर की डंपिंग साइट पर पड़े हुए कूड़े व शहर से इक्ट्ठा किए जा रहे कूड़े के निष्पादन को लेकर शहरी विकास विभाग के दिशा-निर्देशानुसार कार्य प्रगति पर है। डोर-टू-डोर गार्बेज क्लेशन शहर में शुरू हो गई है।

पैकेट बनाकर बेची जाएगी खाद

शहरी विकास विभाग की योजनानुसार नगर परिषद की डंपिंग साइट में कई सालों से जमा कचरा उसे ट्रोमिल मशीन की मदद से निकलने वाली खाद के पैकेट बनाकर बेची जाएगी। खाद के छोटे और बड़े पैकेट बनाने की योजना भी शहरी विकास विभाग ने तैयार की है। इस खाद को घरों में गमलों में लगाए गए पौधों में तो प्रयोग करने के साथ-साथ अन्य फसलों की अधिक पैदावार के लिए रसायनिक खाद की जगह पर इसे खेतों में इस्तेमाल किया जा सकता है। नगर परिषद द्वारा शुरुआती तौर पर इस खाद को अपने पार्कों में लगाए गए फूलों और गमलों में इस्तेमाल कर रही है। इसके बाद इसके पैकेट बनाकर किसानों को भी उपलब्ध करवाई जाएगी।

यह भी पढ़ें :रोड सेफ्टी क्लब ने नगर परिषद नाहन की अध्यक्ष को सौंपा ज्ञापन, जानिए क्यों


जल्द आएंगीअन्य आधुनिक मशीने


नगर परिषद सुंदरनगर की डंपिंग साइट पर शहरी विकास विभाग द्वारा जल्द ही बेलिंग (Bailing) मशीन व डंप किए गए कूड़े-कचरे को इकट्ठा व ट्रोमिल मशीन तक पहुंचाने के लिए छोटी जेसीबी मशीन मुहैया करवाई जा रही है। इससे डंपिंग साइट पर कई वर्षों से पड़े हुए कूड़े के अंबार का निष्पादन तीव्र गति से होगा।

ई-वेस्ट के लिए होगा अलग कियोस्क का निर्माण

नगर परिषद सुंदरनगर की डंपिंग साइट पर खतरनाक(Hazardous Waste) के निष्पादन के लिए अलग कियोस्क का निर्माण भी जल्द किया जाएगा। इसमें मोबाइल,बैटरियां, विद्युत उपकरण आदि वेस्ट को प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड द्वारा पंजीकृत कंपनियों को उपयोग करने के लिए दिया जाएगा। बता दें कि ई-वेस्ट के माध्यम से ओलंपिक्स तक में मेडल तक तैयार किए गए हैं।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है