×

कर्नाटक की ‘नाइंसाफी’ का साइड इफेक्ट चार राज्यों पर, विपक्ष ने किया सरकार बनाने का दावा

कर्नाटक की ‘नाइंसाफी’ का साइड इफेक्ट चार राज्यों पर, विपक्ष ने किया सरकार बनाने का दावा

- Advertisement -

नई दिल्ली। कर्नाटक में सबसे बड़े दल के रूप में बीजेपी को सरकार बनाने के लिए बुलाने के गवर्नर के फैसले का असर चार राज्यों की सियासत पर पड़ा है। कांग्रेस और गैर बीजेपी विपक्षी दलों ने गोवा, बिहार, मणिपुर और मेघालय में कर्नाटक की तर्ज पर ही सरकार बनाने का दावा पेश करने का ऐलान कर दिया है। चारों राज्यों में विपक्षी पार्टियां गवर्नर से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा ठोकेंगी।


बिहार चुनाव में सबसे बड़े दल के रूप में उभरी आरजेडी के नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव विधानसभा में अपने विधायकों की परेड करवाएंगे। इसी तरह गोवा में सबसे बड़े दल के रूप में उभरी कांग्रेस भी राजभवन में अपने विधायकों की परेड कराएगी। मणिपुर के पूर्व मुख्यमंत्री इबोबी सिंह और मेघालय के पूर्व मुख्यमंत्री मुकुल संगमा ने भी अपने-अपने राज्यों में गवर्नर से शुक्रवार को मिलने का समय मांगा है। इन राज्यों के विधानसभा चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी होने के बाद भी इन दलों की सरकार नहीं बनी।

कल धरने पर बैठेंगे आरजेडी विधायक

तेजस्वी ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा, ‘हम कर्नाटक में लोकतंत्र की हत्या के विरोध में शुक्रवार को एक दिन के धरने पर बैठेंगे।’ उन्होंने कहा, ‘हमने बिहार के गवर्नर से बिहार में राज्य सरकार के मुद्दे पर विचार करने को कहा है। कर्नाटक में गवर्नर ने सबसे बड़े दल को सरकार बनाने के लिए बुलाया जो बिहार में आरजेडी है।’ उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘अगर कर्नाटक के गवर्नर कांग्रेस और जेडी(एस) गठबंधन के पास जरूरत के मुताबिक नंबर होने के बावजूद अगर सिंगल लार्जेस्ट पार्टी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करते हैं तो हम राष्ट्रपति से मांग करते हैं कि बिहार में बनी सरकार को बर्खास्त करें और गवर्नर बिहार की सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने के लिए बुलाएं।’

लोकतंत्र का मजाक बना दिया

तेजस्वी ने लिखा, ‘बीजेपी कर्नाटक में हॉर्स ट्रेडिंग को बढ़ावा दे रही है और ये लोकतंत्र में एक खतरनाक परिपाटी स्थापित कर रहे हैं। हर मामले में चित भी इनकी और पट भी इनकी। हेड भी इनका और टेल भी इनका।’ तेजस्वी ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए लिखा, ‘गजब है इन्होंने लोकतंत्र ही गायब कर दिया है। लोकतंत्र का मजाक बना दिया है।’
गोवा में कांग्रेस नेता यतीश नाइक ने कहा, ‘2017 में हमने 17 सीटें जीतीं और राज्य मे सबसे बड़ा दल हैं लेकिन सरकार ने 13 सीटें जीतने वाली बीजेपी को सरकार बनाने का न्यौता दिया। गोवा के गवर्नर ने भी कांग्रेस के बजाय बाकी दलों के विधायकों के साथ आई बीजेपी को सरकार बनाने का मौका दिया था। अब कांग्रेस वहां पर भी कर्नाटक की तर्ज पर दावा पेश करने जा रही है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है