Covid-19 Update

58,607
मामले (हिमाचल)
57,331
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,096,731
मामले (भारत)
114,379,825
मामले (दुनिया)

मुआवजे पर छिड़ी जंगः Congress ने BJP को दी खुली बहस की चुनौती

मुआवजे पर छिड़ी जंगः Congress ने BJP को दी खुली बहस की चुनौती

- Advertisement -

रिकांगपिओ। जिला किन्नौर के ग्राम पंचायत पांगी में परियोजना प्रभावित परिवारों को जारी फसलों के मुआवजे की धन राशि को लेकर कांग्रेस व बीजेपी में जुबानी जंग छिड़ गई है। जहां एक ओर बीजेपी ने विस उपाध्यक्ष पर मुआवजे के राशि 6 करोड़ की वजाय 2 करोड़ 54 लाख वितरित करने का आरोप लगाया है, वहीं जिला कांग्रेस ने यह राशि आकलन के हिसाब से वितरित करने की बात कही है। वहीं विधानसभा उपाध्यक्ष जगत सिंह नेगी ने कहा कि यदि कोई परियोजना प्रभावित परिवार को मुआवाजा नहीं मिला है तो उसकी जांच भी करने के आदेश जारी किए हैं।

  • बीजेपी का आरोप,  6 करोड़ की वजाय 2 करोड़ 54 लाख किए वितरित
  • प्रभावितों को मुआवजा राशि आकलन के हिसाब से वितरितजः कांग्रेस
  • विस उपाध्यक्ष बोले, किसी को नहीं मिला मुआवजा तो होगी जांच

शनिवार को ग्रामीण विकास बैंक डायरेक्टर ठाकुर कृष्ण नेगी, ग्राम कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष कमल सिह नेगी, जिला इंटक अध्यक्ष मान चन्द नेगी व कार्यालय सचिव जिला कांग्रेस कमेटी किन्नौर भरत लाल नेगी ने संयुक्त प्रेसवार्ता में कहा कि विधानसभा उपाध्यक्ष जगत सिंह नेगी द्वारा परियोजना प्रभावित परिवारों को फसलों के नुकसान की धन राशि वितरित की गई है, उसमें बीजेपी नेताओं द्वारा लगाए गए आरोप बेबुनियाद व निरादार हैं।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2006 से परियोजना निर्माण का कार्य चल रहा है, परन्तु बीजेपी सरकार के कार्यकाल में परियोजना से प्रभावित ग्राम पंचायत पांगी में बीजेपी द्वारा किसी भी प्रकार का फसलों के नुकसान का सर्वे नहीं किया गया, लेकिन  ग्राम पंचायत पांगी के कांग्रेस समर्थित पंचायत प्रतिनिधियों ने वर्ष 2011 में परियोजना से हुए फसलों के नुकसान के लिए उद्यान विभाग व कृषि विभाग से एसेस्मेंट करवाया गया।  बीजेपी के नेता विधानसभा उपाध्यक्ष जगत सिंह नेगी द्वारा जिला किन्नौर में किए गए चंहुमुखी विकास को पचा नहीं पा रही है तथा बेबुनियादी बयानबाजी कर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी नेता प्रेस के माध्यम से मुआवजे को लेकर जो बेबुनियादी बयानबाजी कर रहे हैं। इसके लिए हम उन्हें चुनौती देते हैं कि वे इसके लिए खुले मंच पर बहस करें।

शौंगठोंग करच्छम परियोजना में नियमों के आधार पर लगाया गया है क्रैशर प्लांट
पूर्व विधायक तेजवंत सिंह नेगी व एसटी मोर्चा बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सूरत नेगी द्वारा विधानसभा उपाध्यक्ष जगत सिंह नेगी पर अपने भाई को परियोजना में क्रैशर प्लांट लगवाने व कांग्रेस समर्थित ठेकेदारों को शौंगठोंग करच्छम परियोजना में कार्य देने का आरोप पूरी तरह निरादार हैं। इंटक किन्नौर जिलाध्यक्ष मान चन्द नेगी का कहना है कि  परियोजना में लगाए गए क्रैशर प्लांट नियमों के आधार पर लगाया गया है। परियोजना में बीजेपी समर्थित ठेकेदार भी कार्य कर रहे हैं, यही नहीं आईपीएच, लोक निर्माण विभाग सहित अन्य विभागों में भी बीजीपी समर्थित ठेकेदार कार्य कर रहे हैं। विधानसभा उपाध्यक्ष एंव विधायक किन्नौर जगत सिंह नेगी द्वारा जिले में किए गए चंहुमुखी विकास  को देखते हुए चुनावी वर्ष में भाजपा के नेताओं द्वारा लोगों को गुमराह करने के लिए इस तरह की बयानबाजी कर रहे हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है