Covid-19 Update

2,05,061
मामले (हिमाचल)
2,00,704
मरीज ठीक हुए
3,498
मौत
31,396,300
मामले (भारत)
194,663,924
मामले (दुनिया)
×

वीडियो: कांग्रेस ने उठाए CAB पर सवाल, नड्डा ने जवाब देकर बंद कराई बोलती

वीडियो: कांग्रेस ने उठाए CAB पर सवाल, नड्डा ने जवाब देकर बंद कराई बोलती

- Advertisement -

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन बिल लोकसभा से पास हो गया है और आज इसे ऊपरी सदन राज्यसभा में पेश किया गया। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आज इस बिल को पेश किया। कांग्रेस समेत कई विपक्षी दल इस बिल का लगातार विरोध कर रहा है और संविधान विरोधी बता रहा है। वहीं बिल पर चर्चा के दौरान बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष और हिमाचल प्रदेश से राज्यसभा संसद जेपी नड्डा ने कांग्रेस को उन्हीं की भाषा में करारा जवाब देते हुए उनकी बोलती बंद करा दी। दरअसल नड्डा ने पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के बयान को याद दिलाते हुए कहा कि 18 दिसंबर 2003 में मनमोहन सिंह ने राज्यसभा में बयान दिया था। मनमोहन सिंह ने कहा था कि अफगानिस्तान, बांग्लादेश, पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के साथ अत्याचार हो रहा है।

‘हम मनमोहन सिंह की बात ही मान रहे हैं, जो आप (कांग्रेस) नहीं कर पाए’
नड्डा ने आगे कहा कि हम मनमोहन सिंह की बात ही मान रहे हैं, जो आप (कांग्रेस) नहीं कर पाए। उनकी बातों का मानते हुए हम बिल लेकर आ रहे हैं। वे अपने कार्यकाल में पूरा नहीं कर पाए, अब हम कर रहे हैं। बीजेपी सांसद ने आगे कहा कि 2003 में मनमोहन सिंह ने बांग्लादेश जैसे देशों में अल्पसंख्यकों के ट्रीटमेंट पर राज्यसभा में तब के डिप्टी पीएम लालकृष्ण आडवाणी से कहा था कि उन्हें नागरिकता देने में उदार होना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि तो उन्होंने जो कहा था वो अब हम कर रहे हैं। नड्डा ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि आजादी के बाद पाकिस्तान में लगातार अल्पसंख्यकों की संख्या घटी है जबकि भारत में अल्पसंख्यकों की संख्या बढ़ी है।

आनंद शर्मा को भी दिया करारा जवाब
उन्होंने कहा कि कई बार कुछ लोग समझना नहीं चाहते हैं, विपक्ष ऐसा ही कर रहा है। आर्टिकल 14 को बार-बार उठाया जा रहा है, जो कि गलत तर्क है। कांग्रेस पार्टी को राजनीति नहीं बल्कि देशहित के बारे में सोचना चाहिए। आज देश के कई हिस्सों में ऐसे शरणार्थी हैं, जो पढ़ाई कर चुके हैं लेकिन नागरिकता की वजह से उन्हें नौकरी नहीं मिल रही है। नड्डा ने आनंद शर्मा पर पलटवार करते हुए कहा कि आज इस बिल से लाखों लोगों को सम्मान मिलेगा। आनंद शर्मा का भाषण विद्वतापूर्ण था, जब वकीलों के पास तथ्य की कमी होती है तो उसका मूल से संबंध कम होता है। उनके भाषण में आवाज बहुत थी लेकिन तथ्य कम। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान-पाकिस्तान-बांग्लादेश में अल्पसंख्यकों के साथ प्रताड़ना हुई, धर्म के आधार पर देश का विभाजन हुआ।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस Link पर Click करें

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है