Covid-19 Update

2,16,906
मामले (हिमाचल)
2,11,694
मरीज ठीक हुए
3,634
मौत
33,477,459
मामले (भारत)
229,144,868
मामले (दुनिया)

CAG ने बताया- सियाचिन, डोकलाम जैसी जगहों पर सैनिकों का बुरा हाल, कांग्रेस ने BJP को घेरा

CAG ने बताया- सियाचिन, डोकलाम जैसी जगहों पर सैनिकों का बुरा हाल, कांग्रेस ने BJP को घेरा

- Advertisement -

नई दिल्ली। नियंत्रक एवं महालेखापरीक्षक (सीएजी) की रिपोर्ट (CAG Report) के अनुसार, खरीद में 4 साल तक की देरी के कारण सियाचिन, डोकलाम, लद्दाख (Siachen, Doklam, Ladakh) जैसे ज़्यादा ऊंचाई वाले इलाकों में सैनिकों (Soldiers) के मल्टीपर्पस बूट, कपड़ों, चश्मों जैसे उपकरणों की भारी किल्लत है। बतौर रिपोर्ट, महंगा सामान खरीदने से सैनिकों को राशन कम मिल रहा है जिससे उनका पोषण 48%-82.75% तक कम हुआ है। अब इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद देश के प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस (Congress) ने बीजेपी (BJP) और केंद्र सरकार पर करारा वार किया है। सीएजी रिपोर्ट पर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने कहा है, सेना के नाम पर वोट खूब बटोरेंगे, पर जवानों की ज़रूरतों से मुँह मौड़ेंगे।

उन्होंने आगे लिखा कि कैग रिपोर्ट ने खोली बीजेपी के झूठे राष्ट्रवाद की पोल- 5 साल से सियाचिन में न ज़रूरी कपड़े, न उपकरण। न स्नो गूगलस, न मास्क, न जूते। न स्पेशल राशन, न सही रहने का इंतज़ाम। गौरतलब है कि सीएजी कि रिपोर्ट में रक्षा प्रयोगशालाओं द्वारा अनुसंधान एवं विकास में पिछड़ने के कारण ऊंचाई पर इस्तेमाल होने वाले उपकरणों के मामले में सरकार विदेशी आयात पर ही निर्भर रही। रिपोर्ट में कहा गया है कि कुछ उपकरणों के मामले में कमी बहुत ज्यादा थी। स्नो-गॉगल्स की कमी जांच की अवधि के दौरान 62 से 98 फीसदी तक पाई गई जबकि सियाचिन आदि में जवानों के लिए ये बेहद जरूरी हैं।

रिपोर्ट के अनुसार अधिक ऊंचाई वाले स्थानों पर सैनिकों के लिए आवासीय सुविधा उपलब्ध कराने हेतु परियोजना अस्थाई रूप से निष्पादित की गई। पायलट परियोजना के तहत तैयार आवासीय परिसंपत्तियों को उपयोगकर्ताओं को सौंपने में भारी देरी की गई। दरअसल, पहले इनके गर्मी और फिर सर्दी के परीक्षण किए गए। इसके बाद इनकी पुष्टि के लिए एक और परीक्षण हुआ। इसमें काफी समय नष्ट हो गया। इसके चलते पहले से ही विषम जलवायु परिस्थितियों में कार्य कर रहे सैनिकों को और दिक्कतें हुईं।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है