×

PM मोदी की अपील पर Congress का हमला, राहुल ने कांग्रेस शासित राज्यों को दी ये सलाह

PM मोदी की अपील पर Congress का हमला, राहुल ने कांग्रेस शासित राज्यों को दी ये सलाह

- Advertisement -

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (Coronavirus) का संकट देश में तेजी से बढ़ रहा है। पिछले दो से तीन दिनों में कोरोना वायरस के पॉजिटिव केस की संख्या में जबरदस्त उछाल आया है और ये आंकड़ा 2500 के पार चला गया है। वहीं, 70 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। देश को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने अपील करते हुए कहा कि लोग रविवार की रात को नौ बजे अपने घर के बाहर दीया, टॉर्च या मोमबत्ती जलाएं। एकता का संदेश देकर हमें कोरोना के अंधकार को मिटाना है। वहीं अब पीएम मोदी द्वारा की गई इस अपील पर राजनीतिक बयानबाजी का भी दौर शुरू हो गया है। इसी क्रम में कांग्रेस (Congress) के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से भी सिलसिलेवार कई ट्वीट किए गए हैं।


कांग्रेस ने पीएम की अपील पर निशाना साधने के लिए आईसीयू बेड्स, वेंटिलेटर्स, टेस्ट किट और मेडिकल इक्विपमेंट्स की कमी का सहारा लिया है। कांग्रेस ने पीएम मोदी की अपील पर तंज कसने के साथ ही साथ स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की माली हालत को भी उजागर करने की कोशिश की है। कांग्रेस का कहना है कि इन तमाम सवालों से पीएम मोदी छिपने की कोशिश कर रहे हैं। कांग्रेस ने जो ट्वीट किए हैं, उनमें सवालों के पीछे पीएम मोदी की तस्वीर है।

वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में कहा कि केंद्र सरकार ने कम टेस्ट की तकनीक को अपनाया है, लेकिन लोगों के परीक्षण को बढ़ाया जाना चाहिए। ऐसे में राहुल गांधी ने सभी पार्टी शासित राज्यों से ज्यादा से ज्यादा संख्या में टेस्ट कराने की बात कही। खासकर राजस्थान को कोरोना वायरस के लिए टेस्ट बढ़ाने पर जोर दिया है। खासकर राजस्थान को कोरोना वायरस के लिए टेस्ट बढ़ाने पर जोर दिया है। सूत्रों की मानें तो राहुल गांधी ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई लड़ने वाले दो अन्य देशों का उदाहरण दिया, जिन्होंने सामूहिक परीक्षण पर जोर दिया था।

उन्होंने राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत से कहा था कि राज्य में अनियमित तौर पर भी परीक्षण किया जाना चाहिए, क्योंकि इसमें पर्यटकों की संख्या अधिक है। उन्होंने जयपुर, अजमेर सहित कई जिले का भी विशेष रूप से उल्लेख किया है, जहां विदेशियों की भारी भीड़ आती और रहती है। उन्होंने कहा है कि संदिग्धों के परीक्षण के अलावा इसे बाकी लोगों पर अनियमित तौर पर भी किया जाना चाहिए।

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है